असम मॉब लिंचिंग: पुलिस ने 48 आरोपियों के खिलाफ दाखिल की चार्जशीट

Sep 01 2018 08:06 PM
असम मॉब लिंचिंग: पुलिस ने 48 आरोपियों के खिलाफ दाखिल की चार्जशीट

गुवाहाटी: असम पुलिस ने शनिवार को करबी एंग्लोंग जिले में दो युवाओं के सनसनीखेज मॉब लिंचिंग मामले में 48 लोगों के खिलाफ 844 पेज चार्जशीट दायर की है. असम पुलिस महानिरीक्षक (डीजीपी) कुलधर साइकिया ने मामले के बारे में जानकारी देते हुए कहा है कि मामले के 90 दिनों के अंदर चार्जशीट दाखिल कर असम पुलिस ने सराहनीय कार्य किया है.

कारगिल चुनाव : बीजेपी का पहली बार खुला खाता, जानें किस पार्टी को बहुमत मिला

उन्होंने कहा कि जब मॉब लिंचिंग के खिलाफ आंदोलन हर जगह चल रहा है, ऐसे में आसाम पुलिस का यह कदम देश के लिए एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है, हम सभी गिरफ्तार अपराधियों के अपराधों के विवरण संलग्न कर सकते हैं .उन्होंने कहा कि यह चार्जशीट  8 जून को करबी एंग्लोंग में दोक्मोका में दो युवाओं के साथ की गई मॉब लिंचिंग के आरोप में 48 लोगों के खिलाफ दायर की गई है. पुलिस ने 844 पेजों का आरोपपत्र और 104 पेज केस डायरी और 71 गवाहों के बयान के साथ चार्जशीट दाखिल की है जिसे करबी एंग्लोंग के जिला मुख्यालय दीफू में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में प्रस्तुत किया गया है. 

राष्ट्रीय पोषण सप्ताह: ममता ने किया 2020 तक कुपोषण ख़त्म करने का दावा, पर कुछ और ही कहते हैं आंकड़े

उल्लेखनीय है कि 8 जून को, दो मित्र नीलोटपाल दास और अभिजीत नाथ करबी एंग्लोंग में डोक्मोका पुलिस स्टेशन के तहत कंगथिलंगो झरने के एक पिकनिक स्थान पर गए थे.वहां से लौटने के दौरान उनकी कार को पंजुरी कचरी के पास एक समूह ने रोक लिया और बच्चों का अपहरण करने वाले अपराधियों के शक में घंटों तक उनकी पिटाई की, जिससे उनकी मौत हो गई थी. 

खबरें और भी:-​

इस संगीतकार ने मुनि तरुण सागर पर की थी अभद्र टिप्पणी

जलेबी खाते हुए ही संत बन गए थे तरुण सागर महाराज!!

पढ़े जैन मुनि तरुण सागर महाराज के सबसे विवादित और कड़वे वचन

?