'जीन्स नहीं बुर्का पहनो..', असम में तालिबानी व्यवस्था लागू करने की कोशिश

गुवाहाटी: असम के बिश्वनाथ जिले से मॉरल पुलिसिंग का एक मामला प्रकाश में आया है, जहां एक मुस्लिम व्यक्ति ने जींस पहनने पर एक युवती को शर्मसार कर दुकान से बाहर निकाल दिया. दरअसल, युवती मोबाइल फोन एक्सेसरीज स्टोर में ईयरफोन खरीदने के लिए आई थी, इसी दौरान दुकान के मालिक ने बुर्का ना पहनने और जींस पहनने को लेकर लड़की को जमकर खरी-खोटी सुनाई. यही नहीं, उसने ईयरफोन देने से भी इंकार कर दिया.

पुलिस ने बताया कि यह घटना गुवाहाटी से लगभग 230 किलोमीटर दूर विश्वनाथ चरियाली में मौजूद एक मोबाइल फोन एक्सेसरीज स्टोर में हुई, जहां लड़की एक ईयरफोन खरीदने के लिए गई थी. उन्होंने बताया कि दुकान के मालिक नूरुल अमीन ने न सिर्फ उसको ईयरफोन देने से इनकार कर दिया, बल्कि बुर्का के जगह जींस पहनकर आने पर लड़की को ताने मारकर शर्मिंदा भी किया. पुलिस सूत्रों ने जानकारी दी है कि इसके बाद मालिक ने युवती को धक्के मारकर दुकान से बाहर निकाल दिया.

लड़की के पिता ने कहा कि, ‘मेरी बेटी के साथ बदसलूकी की गई और बुर्का की जगह जींस पहनने पर मालिक ने उसे दुकान से निकाल दिया. ये लोग असम में तालिबान व्यवस्था लाने का प्रयास कर रहे हैं और लड़कियों को बुर्का और हिजाब पहनने के लिए विवश कर रहे हैं.’ उन्होंने कहा, ‘हम असम में पैदा हुए हैं और असमिया संस्कृति का अनुसरण करते हैं. मेरी बेटी BCA कर रही है. उसने अपनी पढ़ाई एक सरकारी स्कूल से की है, प्राइवेट में नहीं. उसने असमिया संस्कृति में पढ़ाई की है, मगर अब ये लोग बुर्का और हिजाब पहनाकर उसे तालिबान की शैली में ढालने का प्रयास कर रहे हैं.’

नई एजेंसी SIA करेगी जम्मू कश्मीर के आतंकी मामलों की जांच, NIA की तर्ज पर हुआ गठन

सत्तारूढ़ मिजो नेशनल फ्रंट ने मिजोरम तुइरियाल जीता उपचुनाव

इंडियन ऑयल भारत का पहला मेगा-स्केल मैलिक एनहाइड्राइड संयंत्र करेगा स्थापित

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -