एशियाई खेलों में भारत का सबसे बड़ा दल रवाना

Aug 18 2018 10:16 AM
एशियाई खेलों में भारत का सबसे बड़ा दल रवाना

नई दिल्ली : एशियन गेम्स का 18वां आज से इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता शुरू हो रहा है. यहां पर भारत की कोशिश अपने रेकॉर्ड 15 गोल्ड से ज्यादा मैडल जितने की होगी. बता दें कि भारत ने 1951 में नई दिल्ली में खेले गए पहले एशियाई खेलों में 15 गोल्ड मेडल अपने नाम किये थे. एशियाई खेलों के इतिहास में  2018 में भारत ने अपना अब तक का अपना सबसे बड़ा दल रवाना किया है. अब तक भारत ने एशियन गेम्स में 139 गोल्ड मेडल जीते हैं. सबसे ज्यादा गोल्ड ऐथलेटिक्स में आए हैं. यहां भारत ने 72 गोल्ड मेडल जीते हैं. कबड्डी और रेसलिंग में भारत ने  9-9 गोल्ड जीते हैं. बैडमिंटन और वेटलिफ्टिंग में भारत कोई गोल्ड मेडल नहीं जीत पाया है. 

भारत को गोल्ड दिलाने वाले लिएंडर पेस ने एशियाई खेलों से अपना नाम वापस लिया

इस प्रकार है भारतीय दल
572 ऐथलीट (312 पुरुष, 260 महिला) 

ध्वजवाहक 
नीरज चोपड़ा (भाला फेंक) 

इन खेलों में भारत ले रहा है हिस्सा.
भारत 36 खेलों में भाग ले रहा है (तीरंदाजी, ऐथलेटिक्स, बैडमिंटन, जिम्नैस्टिक, गोल्ड, हैंडबॉल, हॉकी, जूडो, कबड्डी, कर्राटे, कुराश, पेनकाक सिलात, रोलर स्पोर्ट्स, टेनिस, ताइकवांडो, सॉफ्ट टेनिस, टेबल टेनिस,  बास्केटबॉल, बॉक्सिंग, बोलिंग, ब्रिज, कैनोइ-कायक, साइक्लिंग, फेंसिंग, वॉलिबॉल, वेटलिफ्टिंग, रेसलिंग और वुशू.

पाकिस्तान ने फिर किया क्रिकेट को शर्मसार, इस खिलाड़ी पर लगा 10 साल का बैन

भारत का अब तक का प्रदर्शन 
मेडल के हिसाब से देखा जाए तो  65 ग्वांगझू (चीन) 2010 (14 गोल्ड, 17 सिल्वर और 34 ब्रॉन्ज) 
गोल्ड मेडल के हिसाब से नई दिल्ली में प्रदर्शन 1951 (15 गोल्ड, 16 सिल्वर, 20 ब्रॉन्ज) 
पदक तालिका के हिसाब से दूसरे (नई दिल्ली 1951) 
बता दें कि भारत सिर्फ दो बार टॉप 8 से बाहर रहा है (1990 में 11वें स्थान पर और 1998 में 9वें स्थान पर रहा भारत)

खबरे और भी..

पंचतत्व में विलीन हुए अजित वाडेकर, दिग्गज क्रिकेटरों ने दी श्रद्धांजलि

कल होगा एशियाई खेलों का भव्य शुभारम्भ, दिखेगा इंडोनेशिया का जलवा

भारतीय टीम को बड़ा झटका, पूरी सीरीज से बाहर हुए भुवनेश्वर

?