वैश्विक आर्थिक गतिविधियों में उभरा एशिया प्रशांत क्षेत्र

मनीला : एशियाई विकास बैंक (एडीबी) के अध्यक्ष ताकेहीओ नकाओ के अनुसार एशिया और प्रशांत क्षेत्र (एपीएसी क्षेत्र) दुनिया की आर्थिक गतिविधियों का नया आकर्षण केंद्र बनता जा रहा है. एशिया के कायाकल्प की चुनौतियों का सामना करने के लिए बैंक अपनी नई भूमिका तलाशेगा.

आपको बता दें कि मनीला में आयोजित एशियाई विकास बैंक (एडीबी) की 51 वीं वार्षिक बैठक के उद्घाटन सत्र को सम्बोधित करते हुए अध्यक्ष ताकेहीओ नकाओ ने कहा कि आर्थिक गतिविधियों का आकर्षण केंद्र खिसक कर एशिया और प्रशांत क्षेत्र की ओर आ रहा है. इसलिए एडीबी 2030 तक की एक नई रणनीति बना रहा है.इसमें एशिया प्रशांत क्षेत्र में गरीबी दूर करने और क्षेत्र को अधिक समृद्ध, मजबूत और समावेशी बनाने की इसकी परिकल्पनाओं का विस्तार दिया जाएगा.

उल्लेखनीय है कि नकाओ ने कहा कि सभी विकासशील देश आज प्रगति कर के मध्य आयवर्ग में पहुंच गए हैं, फिर भी बड़ी चुनौतियां बाकी हैं. उन्होंने आश्वस्त किया कि एडीबी की ‘रणनीति 2030’ इस वर्ष के मध्य तक तैयार हो जाएगी. इसमें बैंक अलग अलग विकासशील देशों को ऋण सहायता देने के लिए अलग अलग दृष्टिकोण अपनाएगा. उन्होंने यह हमारी जिम्मेदारी है कि हम एडीबी को नई दिशा दें और एशिया और प्रशांत क्षेत्र के कायाकल्प की चुनौतियों का सामना करें. इसके लिए उन्होंने दस प्राथमिकताएं भी गिनवाई.

यह भी देखें

अगले दशक की सबसे तेज़ बढ़ती अर्थव्यवस्था बना भारत - हावर्ड युनिवर्सिटी

जीएसटी परिषद की बैठक में हुए अहम फैसले

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -