तबरेज़ अंसारी मॉब लिंचिंग पर ओवैसी का बड़ा बयान, कहा- अगर पीटा नहीं जाता तो उसकी मौत क्यों होती ?

तबरेज़ अंसारी मॉब लिंचिंग पर ओवैसी का बड़ा बयान, कहा- अगर पीटा नहीं जाता तो उसकी मौत क्यों होती ?

हैदराबाद: झारखंड पुलिस ने तक़रीबन दो महीने पहले सरायकेला में हुए तबरेज अंसारी के मॉब लींचिग मामले में सभी 11 अभियुक्तों पर से हत्या का चार्ज हटा लिया गया है. तबरेज अंसारी की पत्नी ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराइ थी. वहीं, इस मामले पर असदुद्दीन ओवैसी ने कहा है कि तबरेज अंसारी को 7 घंटे तक ना केवल पीटा गया, बल्कि जबरन बुलवाया भी गया. 

ओवैसी ने आगे कहा कि यदि उसको नहीं पीटा जाता तो उसकी मौत होती क्या? उन्होंने कहा है कि झारखंड में भाजपा की सरकार आरोपियों को बचाने का प्रयास कर रही है. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि इन लोगों को सियासी आकाओं को सहायता मिलती है. असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि आखिर क्यों अपराधियों पर धारा 302 नहीं लगाई जा सकती है.

ओवैसी ने कहा कि प्रॉसिक्यूशन को हुकूमत से दूर रखना बहुत आवश्यक है. भाजपा इस बात को अच्छी तरह समझ रही है. जीने का अधिकार मौलिक अधिकार है. प्रेस वार्ता को सम्बोधित करते हुए ओवैसी ने भाजपा पर आरोप लगाया और कहा कि भाजपा की सरकारों में मुस्लमानों का कर्बला बना हुआ है. भाजपा तो जालिम बन रही है और हर स्थान को कर्बला बना रही है. आपको बता दें कि दो माह पूर्व सरायकेला-खरसांवा में चोरी के आरोप ने भीड़ ने तबरेज अंसारी की पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया था.

बिहार में लिटमस टेस्ट का सहारा लेगा महागठबंधन, उपचुनाव से पहले सीट बंटवारे पर शुरू हुई खींचतान

मध्य प्रदेश कांग्रेस में जारी अंतरकलह को लेकर सोनिया गांधी से मिलने पहुंचे थे ज्योतिरादित्य सिंधिया, लेकिन.....

13 सितम्बर को अपनी किस्मत आज़माएगी कांग्रेस, इस पद के लिए घोषित किया उम्मीदवार