भारत रत्न पर अब ओवैसी ने दिया बयान, कहा आंबेडकर को मज़बूरी में दिया ये सम्मान

भारत रत्न पर अब ओवैसी ने दिया बयान, कहा आंबेडकर को मज़बूरी में दिया ये सम्मान

मुंबई:  योगगुरु रामदेव के बाद अब एआईएमआईएम अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने भारत रत्न को लेकर सवाल खड़े किए हैं. ओवैसी का कहना है कि ये सम्मान अभी तक कितने दलित, आदिवासियों और गरीब ब्राह्मणों के दिया गया है? महाराष्ट्र के कल्याण में रैली के दौरान ओवैस ने कहा है कि, 'मुझे ये बताओ कि जितने लोगों को भी भारत रत्न से सम्मानित किया गया, उसमें से कितने दलित, आदिवासी, मुसलमान, गरीब, ऊंची जाति और ब्राह्मण थे?' ओवैसी यहां प्रकाश आंबेडकर के लिए चुनाव प्रचार कर रहे थे. 

पीएम मोदी को मिले उपहारों की नीलामी शुरू, गंगा की सफाई में लगेगा पैसा

ओवैसी ने डॉ भीम राव आंबेडकर को भारत रत्न दिए जाने को भी मजबूरी करार देते हुए कहा कि, 'बाबा साहब को भारत रत्न प्रदान किया गया, पर उन्हें दिल से नहीं दिया गया, मजबूरी में दिया गया.' उल्लेखनीय है कि भारत सरकार की तरफ से इस वर्ष दिए गए पद्म पुरस्‍कारों के संबंध में योग गुरु बाबा रामदेव ने भी हमला बोला है. गणतंत्र दिवस पर हरिद्वार स्थित पतंजलि योगपीठ में समारोह के दौरान उन्‍होंने सवाल उठाया कि 70 वर्ष में किसी भी संत या संन्‍यासी को भारत रत्‍न क्‍यों नहीं प्रदान किया गया.

केंद्रीय मंत्री का विवादित बयान, कहा जो हाथ हिन्दू लड़की को छुए उसे...

आपको बता दें कि रविवार को रामदेव ने कहा था कि 'दुर्भाग्‍य है 70 वर्ष में एक भी संत या संन्‍यासी को भारत रत्‍न नहीं दिया गया है. महर्षि दयानंद सरस्‍वती, स्‍वामी विवेकानंद जी या शिवकुमार स्‍वामी जी. मैं भारत सरकार से अपील करता हूं कि अगली दफा कम से कम किसी संन्‍यासी को भारत रत्न से सम्मानित किया जाए.'

खबरें और भी:- 

भाजपा ने शुरू किया आप के खिलाफ आंदोलन, 'केजरीवाल भगाओ, दिल्ली बचाओ' का दिया नारा

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा मायावती का व्हाट्सएप नंबर, बसपा ने बताया फर्जी

सार्वजनिक मंच से बोले मनोहर परिकर ‘हाउज द जोश'