'मुसलमानों को चाहिए कि..', रामपुर और आजमगढ़ में सपा की हार पर ओवैसी ने मुस्लिमों को दी नसीहत

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की आजमगढ़ और रामपुर संसदीय सीट पर हुए उपचुनाव में समाजवादी पार्टी (सपा) को तगड़ा झटका लगा है। सपा के मुखिया और पूर्व सीएम अखिलेश यादव और वरिष्ठ नेता आजम खान के इस्तीफे के बाद रिक्त हुईं इन सीटों हुए उपचुनाव में भाजपा ने शानदार जीत दर्ज की है। आजमगढ़ से भाजपा के दिनेश लाल यादव उर्फ निरहुआ तो रामपुर से धनश्याम लोधी सपा के गढ़ में सेंध लगाने में कामयाब रहे। सपा को मिली शिकस्त पर अब AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने अखिलेश यादव पर हमला बोला है। 

ओवैसी ने कहा है कि, उत्तर प्रदेश उपचुनाव के परिणाम ये दिखाते हैं कि सपा में भाजपा को हराने की न तो काबिलियत है और ना कुव्वत। मुसलमानों को चाहिए कि वो अब अपना कीमती वोट ऐसी निकम्मी पार्टियों पर बर्बाद करने की जगह अपनी खुद की आजाद सियासी पहचान बनाए और अपने मुकद्दर के फैसले खुद करे। रामपुर और आज़मगढ़ चुनाव के परिणाम से स्पष्ट ज़ाहिर होता है कि सपा में भाजपा को हराने की न तो क़ाबिलियत है और ना क़ुव्वत। मुसलमानों को चाहिए कि वो अब अपना क़ीमती वोट ऐसी निकम्मी पार्टियों पर ज़ाया करने की जगह अपनी खुद की आज़ाद सियासी पहचान बनाए और अपने मुक़द्दर के फ़ैसले ख़ुद करे।

 

यही नहीं ओवैसी ने आगे कहा कि, अखिलेश यादव में इतना अहंकार है कि जिस सीट से उनके पिता सांसद बने। बाद में वे सांसद बने। वे वहां जाकर जनता को ये भी बताने नहीं गए, कि वे चुनाव नहीं लड़ रहे हैं। इतना अहंकार, इसी कारण सपा की हार हुई। AIMIM चीफ ने कहा कि, अब भाजपा की जीत के लिए कौन जिम्मेदार है? अखिलेश किसे बी टीम और सी टीम बताएंगे। 

शिवसेना को बड़ा झटका, शिंदे गुट में शामिल होगा एक और विधायक

अमिताभ का बड़ा ऐलान, बलिया से लड़ेंगे लोकसभा चुनाव

कांग्रेस को बड़ा झटका, इस नेता ने छोड़ा पार्टी का दामन

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -