केजरीवाल बोले- 'दिल्ली वालों को भी अब जनतंत्र चाहिए'

नई दिल्ली : प्रदेश को पूर्ण राज्य बनाने के लिए अनशन को भले ही पिछले दिनों में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने वापस ले लिया, लेकिन इस मुहिम को वह उद्घाटन व शिलान्यास कार्यक्रम में चला रहे हैं। दिल्ली वालों को पूर्ण राज्य के मायने और मतलब बेहतर तरीके से समझा रहे हैं। 

क्रिकेटर रविंद्र जडेजा की पत्नी रीवा ने थामा बीजेपी का दामन

कुछ ऐसा बोले केजरीवाल 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार रविवार को मंगोलपुर व नजफगढ़ में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्लीवालों को भी अब जनतंत्र चाहिए। पूर्ण राज्य वाली अपनी सरकार चाहिए। आधी सरकार दिल्ली वालों को अब नहीं चाहिए। मुख्यमंत्री ने स्थानीय लोगों से वादा किया कि दिल्ली लोकसभा की सातों सीट जीत लेते हैं तो हम केंद्र सरकार से पूर्ण राज्य छीन कर लेंगे। वहीं पूर्ण राज्य होने के साथ ही हम अगले दस साल में हर व्यक्ति को एक मकान देंगे। दिल्ली विकास प्राधिकरण के भ्रष्टाचार को खत्म कर यह संभव कर दिखाएंगे।

पीएम मोदी ने दिया अमेठी को नया नाम

विरोधियों पर साधा जमकर निशाना  

प्राप्त जानकारी के अनुसार उन्होंने कहा कि 95 प्रतिशत अंक हासिल करने वाले बच्चों को आज दिल्ली यूनिवर्सिटी में दाखिला नहीं मिलता है। पूर्ण राज्य की सरकार होगी तो इतना कॉलेज बनाएंगे कि 60 प्रतिशत अंक हासिल करने वाले छात्रों को भी कॉलेजों में दाखिला मिलेगा। 85 प्रतिशत सीट दिल्ली वालों के लिए आरक्षित होगी। नजफगढ़ इलाके में यूजीआर शुरू होने के मौके पर मुख्यमंत्री ने कांग्रेस व भाजपा को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि जो काम पिछले 70 साल में नहीं हुए, वह हमारी सरकार ने 4 साल में करके दिखाया। 10 हजार गलियों की सड़कें बन रही है। सीवर का पाइप लाइन बिछाई जा रही है।

बंगाल में भाजपा की रैली रोकी, पुलिस और कार्यकर्ताओं में हिंसक झड़प

एयर स्ट्राइक पर सवाल करने वालों को देशद्रोही कहना हैरान करने वाली बात - महबूबा मुफ़्ती

दिग्विजय सिंह ने मांगे एयर स्ट्राइक के सबूत, इमरान खान को भी दी बधाई

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -