जेटली बोले-नोटबंदी का फैसला नहीं लेंगे वापस

Nov 17 2016 06:00 PM
जेटली बोले-नोटबंदी का फैसला नहीं लेंगे वापस

नई दिल्ली :  विपक्षी दलों द्वारा किये जा रहे विरोध के बीच केन्द्र सरकार की यह स्पष्ट कर दिया है कि वह किसी भी हालत में नोटबंदी का फैसला वापस नहीं लेगी। केन्द्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली ने सरकार के इरादे स्पष्ट कर दिये है। उनका कहना है कि मोदी सरकार देश से न केवल भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिये संकल्पित है वहीं सरकार का उद्देश्य कालाधन और कालाधन कुबेरों पर नकेल कसना भी है।

नहीं होगी अब लोगों को परेशानी

जेटली ने कहा है कि लोगों को किसी तरह से परेशानी नहीं होने दी जायेगी। सरकार ने नोट बदलने के लिये जहां सुविधा दी है वहीं एटीएम में भी नोटों की आपूर्ति करने का पूरा प्रयास किया जा रहा है। आगामी दो-तीन दिनों में मांग और पूर्ति की दूरी को कम कर दिया जायेगा तथा लोगों को परेशानी नहीं होगी।

समर्थन करें सभी दल

जेटली का कहना है कि कांग्रेस कालेधन की मूहिम को कमजोर कर रही है। उन्होंने कहा है कि कालेधन के लिये उठाये गये कदम का सभी राजनीतिक दलों को समर्थन करने की जरूरत है।

नहीं होंगे लोन माफ

जेटली ने स्पष्ट कहा है कि सरकार ईमानदार लोगों के साथ है। जो लोग ईमानदारी से अपना टैक्स भरते है, उन्हें डरने की जरूरत नहीं है। रही बात बड़े डिफाल्टरों की तो, उनके लोन किसी भी स्थिति में माफ नहीं किये जाएंगे।

नोटबंदी से आईएसआई के माथे से...