दिग्गजों पर गिरी गाज,वित्त मंत्री ने कहा-भुगतना होगा इसका अंजाम

टैक्स हैवन के नाम से प्रसिद्ध पनामा की लॉ फर्म मोसेक फोंसेका से पेपर्स लीक होने के मामले में कई बड़े दिग्गजों के नाम सामने आये है. अब इस खुलासे को देखते हुए केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली का भी कड़ा रुख सामने आया है. जी हाँ, इसके तहत ही वित्त मंत्री ने विदेशों में कालाधन छिपाने वालों को चेतावनी भी दी है.

विदेशों में कालाधन छुपाने के मामले में बात करते हुए वित्त मंत्री ने कहा है कि ऐसे लोगो को जिन्होंने विदेशों में जमा धन और सम्पत्ति का हिसाब सरकार को नहीं दिया है उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाना है. साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि ऐसे लोगो को यह खिलवाड़ बहुत ही महंगा पड़ने वाला है. गौरतलब है कि पिछले साल के दौरान सरकार ने लोगो को अघोषित आय व संपत्तियों का हिसाब देने के लिए अवसर भी दिया था. लेकिन इस दौरान कई लोगो के द्वारा इसका लाभ नहीं उठाया गया.

वित्त मंत्री ने आगे बात करते हुए कहा है कि काले धन को लेकर ऐसे लोगो के खिलाफ वैश्विक पहल के तहत की जा रही बहुपक्षीय व्यवस्था वर्ष 2017 तक प्रभावी हो जाना है. और इसके लागू हो जाने के बाद लोगों के द्वारा गैर कानूनी संपत्ति विदेशो में छुपाना बहुत ही मुश्किल होने वाला है. उन्होंने कहा है कि इस नई व्यवस्था के लागू होने के साथ ही दुनिया में वित्तीय लेन देन की संस्थागत व्यवस्था अधिक पारदर्शी होने वाली है. गौरतलब है कि इसे लॉ फर्म का अब तक का सबसे बड़ा मामला बताया जा रहा है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -