विश्व पर्यटन दिवस आज, जानिए कब हुई थी इस दिवस को मनाने की शुरुआत

घूमना-फिरना, नई-नई स्थानों पर जाना, नई-नई जगहों को देखना और इन जगहों पर खूबसूरत पल बिताना, भला किसे अच्छा नहीं लगता? लोग चाहें कितने भी बिजी क्यों न हो, लेकिन अपने इस बिजी शेड्यूल से वो घूमने का वक़्त अवश्य निकाल लेते  हैं। बस फर्क इतना है कि कोई अपने मित्रों के साथ ट्रैवल करना पसंद करता है, तो कोई अपने परिवार के साथ ट्रिप प्लान करता है। लेकिन घूमने लगभग सभी लोग वक़्त-वक़्त पर जाते हैं। वहीं, पर्यटन आज के वक़्त में एक रोजगार बन गया है इतना ही नहीं इससे कई लोगों की रोजी-रोटी भी चलती है। हिनुस्तान में ही नहीं, बल्कि विश्व के कोने-कोने में लोग घूमने जाते हैं और वहां जाकर एक अलग विश्व में खो जाते हैं। वहीं, हर साल 27 सितंबर को विश्व पर्यटन दिवस सेलिब्रेट किया जाता है, तो चलिए जानते हैं कि आखिर इस दिन की शुरुआत किस तरह से हुई।

इसलिए मनाया जाता है विश्व पर्यटन दिवस: दरअसल, पर्यटन से रोजगार तेजी से बढ़ता है और इसलिए विश्व पर्यटन दिवस के द्वारा लोगों में पर्यटन के प्रति जागरूकता लाने और अधिक से अधिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए इस दिन को सेलिब्रेट किया जाता है। इस दिन के माध्यम से देश-विदेश के सैलानियों को अपनी ओर आकर्षित किया जाता है।

ऐसे हुए इस दिवस  को मनाने की शुरुआत: बात अगर इस विश्व पर्यटन दिवस की शुरुआत की बात की जाए तो 1970 में विश्व पर्यटन संस्था द्वारा इस दिन को सेलिब्रेट करने की शुरुआत की गई थी। जिसके उपरांत 27 सितंबर 1980 को पहली बार विश्व पर्यटन दिवस सेलिब्रेट किया गया था और तब से प्रत्येक वर्ष 27 सितंबर यानी आज ही के दिन ही विश्व पर्यटन दिवस को मनाया जाता है।

ये है विश्व पर्यटन दिवस मनाने का उद्देश्य:  जी हां  इस दिन को मनाने का सीधा सा एक उद्देश्य है और वो है पर्यटन के माध्यम से लोगों के लिए रोजगार को तेजी से बढ़ाना। जब किसी स्थान पर लोग घूमने जाएंगे, तो वहां ठहरेंगे, नई-नई जगहों पर घूमेंगे, अपने लिए खरीदारी करेंगे, खानपान करेंगे इससे व्यवसाय करने वालों की इनकम बढ़ेगी। और साथ ही वहां इन सुविधाओं को पूरा करने के लिए लोगों की जरूरत पड़ेगी, जिससे रोजगार के मौके पैदा होंगे।

राजनाथ सिंह ने कहा- "अफगानिस्तान की घटनाओं से राज्य के ढांचे में बदलाव... "

14 वर्ष से कम आयु के बच्चों की भीड़ से आयरलैंड में बढ़ रहा कोरोना का संक्रमण

क्लिनिकल परीक्षण में सामने आया, चीनी वैक्सीन कोरोना से लड़ने में अधिक प्रभावी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -