इंटरनेशनल फायर फाइटर डे: खुद झुलसकर भी दूसरों को बचाने वाले 'योद्धाओं' के सम्मान का दिन

अंतरराष्ट्रीय फायर फाइटर डे प्रति वर्ष 4 मई को फायर फाइटर के प्रति सम्मान प्रकट करने के लिए मनाया जाता है. आग की धधकती लपटों के बीच अपनी जान की परवाह किए बगैर ये फायर फाइटर्स, दूसरे लोगों को सुरक्षित करने में अपनी पूरी जिंदगी बीता देते हैं. कभी-कभी उनका ये काम 15-20 घंटे से भी अधिक तक चला जाता है, लेकिन इसके बाद भी समाज के ये असली ‘हीरो’ अपनी जान खतरे में डालकर दूसरों की जान से लेकर संपत्ति तक को बचाते हैं.

इन योद्धाओं के पराक्रम को नमन करने के लिए प्रति वर्ष 4 मई को इंटरनेशनल फायर फाइटर्स डे का आयोजन किया जाता है. इस दिन, दुनिया उन फायरमैन को श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं, जिन्होंने कम्युनिटी सर्विस में अपनी जान देते हुए सर्वोच्च बलिदान दिया है. इसके साथ ही, पूरी दुनिया में लोगों की जान बचाने के लिए अपनी जान को जोखिम में डालने वाले फायर फाइटर्स का शुक्रिया अदा किया जाता है.

4 जनवरी, 1999 को ऑस्ट्रेलिया में जंगल में आग लगने की वजह से पांच अग्निशमन कर्मचारियों की जान चले गयी थी, इस घटना के बाद अंतर्राष्ट्रीय अग्निशमन कर्मचारी दिवस की स्थापना के लिए दुनिया भर में ईमेल के द्वारा प्रस्ताव भेजे गए थे। इस दिवस के द्वारा अग्निशमन कर्मचारियों को उनके साहसिक व बलिदानी कार्य करने के लिए आभार प्रकट किया जाता है ।

टीपू सुलतान: एक महान राजा या अत्याचारी तानाशाह ?

हाथी पर 'कोरोना' को कुचलने निकले पीएम मोदी ! ना सोशल डिस्टेंसिंग ना मास्क

भारत की ये 6 जगह है बेस्ट बीच हॉलिडे डेस्टिनेशंस

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -