आग के कारणों का पता जांच के बाद ही चल पाएगाः रक्षा मंत्री

Jun 01 2016 12:54 PM
आग के कारणों का पता जांच के बाद ही चल पाएगाः रक्षा मंत्री

पुलगांव : सेना के सबसे बड़े डिपो में लगी आग के मामले में सेना ने जांच शुरु कर दी है। रक्षा मंत्रालय के आदेशानुसार, टीम आयुध डिपो पहुंच चुकी है। डिपो में लगे भीषण आग में 18 लोगों की मौत हुई। विस्फोट इतना भयावह था कि सात पीड़ितों के चिथड़े उड़ गए। एशिया के सबसे बड़े डिपो में से एक आयुध डिपो में मंगलवार को लगी आग में 13 दमकल कर्मी, 2 सैन्य अफसर और एक जवान की मौत हो गई थी।

इस विस्फोटक घटना में 17 लोग घायल भी हुए है। जिनकी हालत गंभीर बनी हुई है। रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा कि यह आग किसी साजिश का परिणाम नहीं है। लेकिन आग के कारणों का पता जांच के बाद ही चल पाएगा। हम किसी भी तरह की संभावना को खारिज नहीं कर रहे, लेकिन इस तरह की कोई साजिश नहीं है।

रक्षा मंत्री ने कहा कि समय रहते सभी संबंधित लोगों की मदद से आग पर काबू पा लिया गया। इतनी जल्दी किसी भी नतीजे पर पहुंचना जल्दबाजी होगी। इस हादसे में 130 टन टैंक रोधी सामग्री नष्ट हो गई। नौ अन्य शेडो में रखे गए गोला बारुद को बचा लिया गया।