इंडियन आर्मी डे 2021: केएम करियप्पा के सम्मान में मनाया जाता है सेना दिवस, जानिए कौन है ये शख्स ?

By Nikki Chouhan
Jan 15 2021 01:01 AM
इंडियन आर्मी डे 2021: केएम करियप्पा के सम्मान में मनाया जाता है सेना दिवस, जानिए कौन है ये शख्स ?

आज पुरे देश में सेना दिवस मनाया जा रहा है। प्रत्येक वर्ष 15 जनवरी को सेना दिवस मनाया जाता है। इस वर्ष भारत का 73वां सेना दिवस मनाया जा रहा है। यह दिन सैन्य परेडों, सैन्य प्रदर्शनियों एवं अन्य समारोह के साथ नई दिल्ली एवं सभी सेना मुख्यालयों में मनाया जाता है। सेना दिवस के मौके पर पूरा देश थल सेना की वीरता, अदम्य साहस, शौर्य तथा उसकी कुर्बानी को याद करता है। भारतीय सेना दिवस प्रत्येक वर्ष 15 जनवरी को फील्ड मार्शल केएम करियप्पा के सम्मान में मनाया जाता है। वर्ष 1949 में आज ही के दिन भारत के अंतिम ब्रिटिश कमांडर-इन-चीफ जनरल फ्रांसिस बुचर के स्थान पर वर्तमान लेफ्टिनेंट जनरल के एम करियप्पा ने लिया था। करियप्पा ने 1947 में भारत-पाक के मध्य हुए युद्ध में भारतीय सेना की कमान संभाली थी। 

स्वतंत्रता के पश्चात् देश में कई प्रशासनिक परेशानियां उत्पन्न होने लगी थीं और फिर हालात को नियंत्रित करने के लिए सेना को आगे आना पड़ा था। भारतीय सेना के अध्यक्ष तब भी ब्रिटिश मूल के ही हुआ करते थे। 15 जनवरी 1949 को फील्ड मार्शल के एम करियप्पा आजाद भारत के पहले भारतीय सेना प्रमुख बने थे। उस वक़्त सेना में तकरीबन 2 लाख सैनिक थे। केएम करियप्पा के सेना प्रमुख बनाए जाने के पश्चात् से ही प्रत्येक वर्ष 15 जनवरी को सेना दिवस मनाया जाने लगा।

प्रत्येक वर्ष 15 जनवरी को जवानों के दस्ते तथा अलग-अलग रेजिमेंट की परेड होती है एवं झांकियां निकाली जाती हैं। सेना दिवस को प्रत्येक वर्ष बहुत उत्साह के साथ मनाया जाता है। आपको बता दें कि केएम करियप्पा प्रथम ऐसे अधिकारी थे, जिन्हें फील्ड मार्शल की रैंक दी गई थी। 1947 में भारत-पाक युद्ध में इंडियन आर्मी को कमांड किया था। करियप्पा वर्ष 1953 में सेवानिवृत हुए थे और 1993 में 94 वर्ष की आयु में उनका देहांत हुआ था।

जालौन में नाबालिग के साथ यौन शोषण, पूर्व भाजपा नेता गिरफ्तार

जल्लिकट्टु में शामिल हुए राहुल गांधी, बोले- तमिल कल्चर देखना शानदार अनुभव

जमीन पर कब्जा करने के प्रयास में भीड़ ने वन विभाग के अधिकारियों पर किया हमला, 6 लोग हुए घायल