क्या इस चिलचिलाती गर्मी में आपको स्किन रैशेज हो रहे हैं? बिना किसी दवा के इस तरह से व्यवहार करें!

क्या इस चिलचिलाती गर्मी में आपको स्किन रैशेज हो रहे हैं? बिना किसी दवा के इस तरह से व्यवहार करें!
Share:

गर्मी के मौसम में त्वचा पर चकत्ते होना आम बात है, क्योंकि पसीने और घर्षण की वजह से त्वचा में जलन हो सकती है। ये अक्सर लाल, सूजे हुए क्षेत्रों के रूप में दिखाई देते हैं और साथ ही खुजली या बेचैनी भी हो सकती है।

गर्म मौसम में त्वचा पर चकत्ते पड़ने के कारण

गर्म मौसम में त्वचा पर चकत्ते कई कारणों से हो सकते हैं:

1. पसीना और गर्मी

उच्च तापमान के कारण पसीना अधिक आता है, जिससे रोम छिद्र बंद हो जाते हैं और घमौरियां या घमौरियां हो जाती हैं।

2. घर्षण

तंग या खुरदरे कपड़े पहनने से त्वचा पर घर्षण हो सकता है, जिससे त्वचा में जलन और चकत्ते हो सकते हैं।

3. सूर्य के संपर्क में आना

सूर्य के अत्यधिक संपर्क में आने से सनबर्न हो सकता है, जो त्वचा पर लालिमा, दर्द और कभी-कभी छाले होने जैसी समस्या है।

त्वचा पर होने वाले चकत्तों का प्राकृतिक रूप से उपचार करने के प्रभावी तरीके

1. ठंडा सेक

प्रभावित क्षेत्र पर ठंडी पट्टी या ठंडा गीला कपड़ा लगाने से सूजन कम करने और खुजली से राहत मिल सकती है।

2. ओटमील स्नान

ओटमील बाथ लेने से त्वचा की जलन से राहत मिल सकती है। ओटमील में सूजनरोधी गुण होते हैं जो त्वचा को शांत कर सकते हैं।

3. एलोवेरा जेल

एलोवेरा जेल अपने सुखदायक और उपचार गुणों के लिए जाना जाता है। दाने पर ताजा एलोवेरा जेल लगाने से लालिमा कम करने और घाव भरने में मदद मिल सकती है।

4. हाइड्रेशन

भरपूर पानी पीने से त्वचा को अंदर से बाहर तक हाइड्रेटेड रखने में मदद मिलती है, जो उपचार प्रक्रिया में सहायक हो सकती है।

5. ढीले कपड़े

कपास जैसे प्राकृतिक रेशों से बने ढीले, हवादार कपड़े पहनने से घर्षण कम हो सकता है और त्वचा को सांस लेने में मदद मिल सकती है।

6. उत्तेजक पदार्थों से बचें

कठोर साबुन, इत्र और अन्य उत्तेजक पदार्थों से बचने से दाने को और अधिक बढ़ने से रोका जा सकता है।

चिकित्सा सहायता कब लें

अगर त्वचा पर दाने कुछ दिनों से ज़्यादा समय तक बने रहते हैं, बिगड़ जाते हैं या बुखार के साथ होते हैं, तो स्वास्थ्य सेवा पेशेवर से सलाह लेना ज़रूरी है। वे उचित उपचार दे सकते हैं और किसी भी अंतर्निहित स्थिति का पता लगा सकते हैं।

गर्म मौसम में त्वचा पर होने वाले चकत्तों से बचाव

1. शांत रहें

पसीना और गर्मी से बचने के लिए दिन के सबसे गर्म समय में छायादार या वातानुकूलित क्षेत्रों में रहें।

2. पसीना आने के बाद स्नान करें

पसीना आने के बाद ठंडे पानी से स्नान करने से त्वचा को साफ करने और रोमछिद्रों को बंद होने से रोकने में मदद मिलती है।

3. सनस्क्रीन का उपयोग करें

अपनी त्वचा को धूप से होने वाली जलन से बचाने और चकत्ते होने के जोखिम को कम करने के लिए उच्च एसपीएफ वाला सनस्क्रीन लगाएं।

4. नियमित रूप से मॉइस्चराइज़ करें

सौम्य मॉइस्चराइजर का उपयोग करने से त्वचा को हाइड्रेटेड रखने और जलन से बचने में मदद मिलती है।

5. कपड़ों का चुनाव

ढीले-ढाले कपड़े पहनें जो हवा के संचार को अनुमति देते हैं और त्वचा के खिलाफ घर्षण को कम करते हैं। बिना दवा के चिलचिलाती गर्मी में त्वचा के चकत्तों का प्रबंधन और उपचार करने के लिए सरल लेकिन प्रभावी रणनीतियाँ शामिल हैं जैसे कि शीतलन तकनीक, एलोवेरा और ओटमील जैसे प्राकृतिक उपचार, और हाइड्रेटेड रहने और उचित कपड़े पहनने जैसे निवारक उपाय। सक्रिय कदम उठाकर, आप असुविधा को कम कर सकते हैं और गर्म मौसम के कारण होने वाले त्वचा के चकत्तों को तेजी से ठीक कर सकते हैं।

कद्दू के बीजों का करें ऐसे इस्तेमाल, हेयर फॉल से मिलेगा निजात

NHM महाराष्ट्र स्टाफ नर्स और MPW भर्ती 2024: 93 पदों के लिए आवेदन करें

जानिए पैनिक अटैक के लक्षण और इससे बचाव के तरीके

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -