श्रीलंका में भूस्खलन से 35 की मौत, 200 से अधिक परिवार लापता

कोलंबो: श्रीलंका के केगल्ले में भारी बारिश के बाद हुए भूस्खलन में अब तक 35 लोगों के मारे जाने की खबर है जब कि 200 से अधिक परिवार लापता है। रेडक्रॉस के एक अधिकारी के अनुसार, तीन गांवों में आए भूस्खलन के बाद स्थिति भयावह है। अधिकारियों का कहना है कि मृतकों की संख्या बढ़ सकती है।

गांव वासी मंगलवार को आई भारी बारिश और भूस्खलन की स्थिति से काफी सदमे में हैं। सिरिपुरा गांव की निवारी 52 वर्षीय एजी कमला ने कहा कि मैंने एक बड़ी तेज आवाज सुनी। मुझे ऐसा लगा जैसे एक हवाईजहाज धरती पर दुर्घटनाग्रस्त हो गया है और मैं काफी डर गई।

इसके बाद जब मैंने दरवाजा खोलकर देखा, तो मुझे विश्वास नहीं हुआ। ऐसा लगा जैसे एक बड़ा सा गोला पहाड़ो से टकराया और फिर जोर की आवाज आई। सरकारी अधिकारी महेंद्र जगनाथ ने बताया कि आपदा से बचाए गए 1000 से अधिक लोगों ने शरणार्थी शिविरों में शरण ली है।

जो लोग इस दौरान घायल हुए है, उनका पास के एक बौद्ध मंदिर और स्कूल में इलाज चल रहा है। सरकारी आंकड़ों के अनुसार, पूरे देश से करीब 35 हजार लोग विस्थापित हो चुके है। अधिकारियों का कहना है कि अभी और भूस्खलन हो सकते है।

तटीय इलाकों में भारी बारिश की भी चेतावनी दी गई है। श्रीलंकाई सेना के प्रवक्ता जयनाथ जयवीरा के मुताबिक, पूर्वोत्तर के तटीय जिले पुत्तलम से सैनिकों ने नावों और हेलीकॉप्टरों की मदद से वहां फंसे 200 से अधिक लोगों को सुरक्षित निकाला है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -