एप्पल ने नही दिया, बर्नाडिनो हमले के आतंकी के आईफोन का डाटा

Feb 18 2016 07:25 AM
एप्पल ने नही दिया, बर्नाडिनो हमले के आतंकी के आईफोन का डाटा

वाॅशिंगटन : 2 दिसंबर 2015 में कैलिफोर्निया के सेन बर्नाडिनो में एक कम्युनिटी सेंटर पर टेरर अटैक हुआ था। इस अटैक में 14 लोगो की जान गई थी। इस हमले के मूल आरोपी कपल सैयद फारूख और उसकी पत्नी तश्फीन मलिक थें इन दोनों ने आईएसआईएस के निर्देश अनुसार हमले को अंजाम दिया था। एफबीआई को एक हमलें वार की कार से एक आईफोन मिला था। मंगलवार को यूएस कोर्ट ने कंपनी एप्पल से जांच में मदद करने और एफबीआई को डाटा देने का आॅर्डर देने के लिये कहा था।

हालांकि इस आईफोन के डाटा को अमेरिकी इन्वेस्टिगेटर्स अब तक एक्सेस करने मे असफल रहा है। इसलिये सरकार चाहती है कि एप्पल पासकोड़ का ब्रेक करे।  पर कंपनी के सीईओ ने कहा कि यह हमारे ग्राहक की सुरक्षा के लिये यह आगे चलकर खतरा बना सकता है। हम इस आॅर्डर के खिलाफ है इस लीगल केस से कही ज्यादा आगे जाकर असर देखने को मिलेगा। 

सीईओं ने बताया कि:- 2014 से कंपनी ने ऐसे आईफोन निकाले है जिस कस्टमर को बहेतर से बहेतर सुरक्षा प्रदान की जाये। इसलिये इन आईफोन में टेक्सट मैसेजेस और फोटोग्राफ्स इनक्रिप्टेड रहते है। जिस से अगर आपका डिवाइस लाॅक रहता है। तो डाटा एक्सेस करने के लिये यूजर्स को पासकोड की जरुरत होती है। और किसी कारण से यूर्जस दस बार से ज्यादा पासकोड गलत डाल देता है। तो डाटा आटोमेटिक ही डिलीट हो जाता है। और वह डेटा को कंपनी का स्टाफ भी एक्सेस नही कर पाता है।