अनुप्रिया के मंत्रिपद लेते ही अपना दल हुआ एनडीए से अलग

लखनऊ : केंद्रीय राज्यमंत्री बनाई गईं सांसद अनुप्रिया पटेल द्वारा मंत्री पद की शपथ लेने के बाद ही भाजपा से उनके दल अपना दल ने अलगाव कर लिया है। दरअसल एनडीए गठबंधन में शामिल अपना दल ने स्वयं को एनडीए से हटा लिया है। दरअसल पार्टी की अध्यक्ष कृष्णा पटेल ने पार्टी की वर्किंग कमेटी की बैठक में इस बात की घोषणा की।

उल्लेखनीय है कि अपना दल में वर्चस्व को लेकर अनुप्रिया की अपनी बहन पल्लवी पटेल से लड़ाई चल रही है। इस दौरान माता कृष्णा पटेल, पल्लवी का साथ देने में लगी रहीं।

दूसरी ओर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कैबिनेट में अनुप्रिया को स्वास्थ्य राज्यमंत्री बना दिया गया है। तो फिर उनकी माता ने भाजपा से अपनी पार्टी का गठबंधन तोड़ लिया। अनुप्रिया पटेल सांसद बनने से पहले विधायक भी रही हैं। उन्हें रोहनियां क्षेत्र से विधायक चुना जा चुका है। हालांकि उनकी मां ने उन्हें पार्टी से बाहर निकलाने की तैयारी की लेकिन अनुप्रिया ने पार्टी की बैठक बुलाकर स्वयं को अध्यक्ष घोषित किया। ऐसे में उनकी माता कृष्णा पटेल और अनुप्रिया पटेल के बीच राजनतिक लड़ाई प्रारंभ हो गई।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -