+

अपर्णा सेन ने दुष्कर्म आरोपी की फांसी को लेकर कही ऐसी बात कि, भड़क गई सांसद हेमा मालिनी

Dec 03 2019 01:02 PM
अपर्णा सेन ने दुष्कर्म आरोपी की फांसी को लेकर कही ऐसी बात कि, भड़क गई सांसद हेमा मालिनी

पूरे देश में हैदराबाद की पशु चिकित्सक के साथ दरिंदगी के बाद निर्ममता से हत्या की घटना को लेकर आक्रोश है. देशभर में जगह-जगह पर विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. सभी आरोपियों को फांसी देने की मांग कर रहे हैं. वहीं मशहूर फिल्मकार अपर्णा सेन ने पूछा है कि क्या ऐसा करने से इस तरह के अपराधों में कमी आएगी. राज्यसभा के कई सांसदों ने मामले के चार आरोपियों को मौत की सजा, लिंचिंग और उनकी नसबंदी करने की मांग की थी जिसके बाद सेन ने यह बयान दिया. उन्होंने सोमवार को ट्वीट किया, 'हैदराबाद में हुए दुष्कर्म और हत्या के मामले के आरोपियों को संभवत: फांसी की सजा मिलेगी. सारा देश उनके खून का प्यासा है.'

प्रियंका वाड्रा का ट्वीट, कहा- रेलवे को भी बेचना शुरू कर देगी भाजपा सरकार, क्योंकि इनकी स्किल....

अपने बयान में सेन ने कहा, 'यह बेहद घिनौना अपराध है. लेकिन इसके बाद क्या? क्या बलात्कार की और कोई वारदात नहीं होगी? क्या बलात्कार के मामलों में कमी आएगी?' वहीं मथुरा से भाजपा सांसद हेमा मालिनी ने हैदराबाद की घटना को लेकर कहा, 'हम रोजाना महिलाओं के साथ होने वाली इस तरह की चीजों के बारे में सुन रहे हैं. महिलाओं का शोषण हो रहा है. मेरी सलाह यह है कि आरोपियों को स्थायी रूप से जेल में रखा जाए. एक बार वह जेल जाएं तो उन्हें कभी भी रिहा नहीं करना चाहिए.'

हैदराबाद में महिला डॉक्टर रेप मामले में जनता का फूटा गूस्सा, सड़कों पर उतरे लोग

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि फेसबुक और ट्विटर पर तमाम लोगों ने इस मामले के आरोपियों को सार्वजनिक रूप से फांसी देने, नसबंदी करने और निजी अंग काटने की मांग की है.महिलाओं के एक धड़े ने बलात्कारियों को जल्द से जल्द सजा न दिए जाने पर चुनाव का बहिष्कार करने की मांग की है.बता दें कि हैदराबाद के एक सरकारी अस्पताल में बतौर सहायक पशु चिकित्सक काम करने वाली युवती का अधजला शव शहर के शादनगर इलाके में 28 नवंबर को एक पुल के नीचे मिला था. एक दिन पहले वह लापता हो गई थी। इस मामले में चार लोगों को 29 नवंबर को गिरफ्तार किया गया था. शनिवार को इन सभी आरोपियों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. सभी आरोपियों की आयु 20 से 24 साल के बीच है.

पश्चिम बंगाल : पुलिस पर अज्ञात लोगों ने दागी गोलियां, एसआइ समेत दो लोग...

सुप्रीम कोर्ट की बड़ी पीठ को मांग भेजने की अपील, SC-ST आरक्षण की इस बात के पक्ष में नही सरकार

फडणवीस सरकार ने गुजरात की कंपनी को दिया था करोड़ों का ठेका, सीएम बनते ही उद्धव ने किया रद्द