"देशभक्ति हमें न सिखाओ, देशभक्ति हमारे खून में है"

बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता अनुपम खेर एक बार फिर से अपनी अदाकारी के लिए नही बल्कि अपनी जुबान से छोड़े गए अग्निबाण के लिए चर्चाओ में है. बीजेपी सांसद व दिग्गज अभिनेत्रियों में शुमार कलाकारा किरण खेर के पति अनुपम खेर जो की सोमवार के दिन राजधानी दिल्ली के विधानसभा परिसर में तीन दिनों से चल रहे लोक-मंथन के समापन समारोह में शरीक होने आए थे.

इस दौरान अपनी एक चर्चा के दौरान अनुपम ने एक बार फिर से कहा कि, वह जब देशभक्ति की बात करते हैं तो कुछ लोगों को परेशानी होने लगती है. अनुपम ने अपने तल्ख लहजे में यह भी कहा कि, "देशभक्ति हमें न सिखाओ, देशभक्ति हमारे खून में है. अगर इसके कारण किसी को परेशानी होती है तो होने दीजिये मुझे इससे कोई मतलब नही है हम तो अपना काम करेंगे."

इसके साथ ही साथ भाजपा सांसद किरण खेर के अभिनेता पति अनुपम खेर ने आगे दोहराया कि असहिष्णुता और देशभक्ति के विषय अभी पूर्व के दो-तीन वर्षो में जानते हुए भी जान बूझकर उठाए गए. फिर क्या था मेरे भीतर का भी भारतीय नागरिक जागा व उसने कहा की यह चुप रहने का समय नही है. फिर मेने असहिष्णुता पर सवाल उठाने वालों का खुलकर विरोध किया.  

मोदी की नोटबंदी पर ऐश्वर्या का समर्थन