समीर वानखेड़े पर छाए संकटों के बादल! सामने आया एक और गवाह, किया ये हैरतअंगेज खुलासा

मुंबई क्रूज ड्रग्स मामले विवाद के बीच एक और बयान सामने आया है, जो NCB के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े की मुश्किलें बढ़ा सकता है। ड्रग्स से संबंधित एक अन्य मामले के गवाह ने दावा किया है कि समीर वानखेड़े ने उनसे भी सादे कागज (ब्लैंक पेपर) पर साइन कराए। ये ड्रग्स मामला खारघर से हुआ एक नाइजीरियन की गिरफ्तारी से जुड़ा है। इस मामले में गवाह बनाए गए शेखर कांबले सामने आए हैं। शेखर कांबले ने दावा किया है कि उनसे 10-12 सादे कागजों पर साइन कराए गए, जिनका बाद में पंचनामे के रूप में उपयोग किया गया।

आपको बता दें कि शेखर कांबले से पहले शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान से संबंधित मामले के गवाह प्रभाकर सैल भी इसी प्रकार का दावा कर चुके हैं। प्रभाकर सैल ने भी ब्लैंक पेपर पर साइन कराने एवं आर्यन को छोड़ने के लिए 25 करोड़ रुपये के अनुबंध जैसे गंभीर आरोप लगाए हैं, जिनकी तहकीकात भी आरम्भ हो गई है। प्रभाकर के आरोपों पर समीर वानखेड़े समस्याओं में घिरे दिखाई दे रहे हैं। वहीं, इस बीच शेखर कांबले का बयान भी मामले को और तूल दे सकता है। 

इसके साथ ही शेखर कांबले ने कहा, ''मैंने कल टेलीविज़न पर खबर देखी, जिसमें खारघर मामले का जिक्र किया गया था। मैं डर गया। मुझे अनिल माने के NCB अफसर का फ़ोन आया। आशीष रंजन नाम के NCB अफसर केस हैंडल कर रहे थे। वही शेखर कांबले ने दावा किया है कि उससे अनिल माने ने देर रात कांटेक्ट किया तथा किसी से भी बात नहीं करने को कहा। शेखर ने NCB के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े का भी नाम लिया। शेखर कांबले ने बताया, ''वानखेड़े ने मुझे ब्लैंक पेपर पर साइन करने को बोला तथा कुछ न होने की बात कही।''

रिलीज हुआ तड़प का ट्रेलर, जबरदस्त अंदाज में नजर आए सुनील शेट्टी के बेटे अहान

दिसंबर में शादी करने जा रहे है आलिया-रणबीर! एक्टर ने पोस्टपोन की फिल्म की शूटिंग

आयुष्मान खुराना का बड़ा खुलासा, बताया आगामी 4 फिल्मों में क्या होगा सबसे खास?

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -