उज्जैन में एक और आदिवासी महिला से गैंगरेप, 1.5 किलोमीटर तक अर्धनग्न हालत में भागी और फिर...

उज्जैन में एक और आदिवासी महिला से गैंगरेप, 1.5 किलोमीटर तक अर्धनग्न हालत में भागी और फिर...
Share:

उज्जैन: मध्य प्रदेश के उज्जैन से एक आदिवासी महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना सामने आई है। इस घटना में सम्मिलित दो आरोपियों ने काम दिलाने की के बहाने महिला को उज्जैन से तकरीबन 20 किलोमीटर दूर ताजपुर ले जाकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। पंवासा थाना प्रभारी रविंद्र कटारे ने बताया कि थाना इलाके में एक महिला अर्धनग्न हालत में घूम रही है। महिला के साथ किसी ने बलात्कार किया था। जानकारी होने के पश्चात् जब जांच-पड़ताल की गई तो घटना सही पाई गई। फिर पुलिस ने धरपकड़ कर अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया।

थाना प्रभारी ने बताया कि जबलपुर एवं मंडला निवासी दो प्रेमी युगल घर से भाग गए थे। पहले इन्होंने शादी की, फिर इंदौर से उज्जैन पहुंच गए। यहां पर दोनों काम की तलाश में इंदिरा नगर क्षेत्र में घूम रहे थे, तभी इन्हें रवि नाम का एक युवक मिला। रवि दोनों को काम देने का झांसा देकर अपनी मोटरसाइकिल पर बैठाया और यहां से ताजपुर ले गया। दंपति को लगा था कि अब उनका जीवन सुखमय हो जाएगा, मगर उनको काम का झांसा देकर ले गए रवि के मन में कुछ और ही चल रहा था। रवि ने अपने एक और दोस्त इमरान को झोपड़ी के पास बुलाया तथा वह महिला के पति को आवश्यकता का सामान दिलाने के लिए उज्जैन ले आया। वहां महिला का पति कुछ सामान खरीदता, इसके पहले ही बहाना बनाकर रवि उसे छोड़कर फिर ताजपुर पहुंच गया। यहां इमरान पहले ही महिला के साथ झोपड़ी में बलात्कार कर चुका था। इसके चलते महिला डरी और घबराई हुई थी, मगर फिर भी रवि ने उसे अपनी हवस का शिकार बनाया।

गैंगरेप के पश्चात् महिला ने जैसे-तैसे हिम्मत जुटाई और अर्धनग्न अवस्था में ही वह झोपड़ी से गांव की तरफ भागने लगी, लगभग डेढ़ किलोमीटर भागने के पश्चात् उसे कुछ लोग खेत पर काम करते हुए दिखे। महिला उन लोगों के पास पहुंच गई। लोगों ने इसकी खबर पुलिस को दी। खबर प्राप्त होने पर पहुंची पुलिस महिला को अपने साथ थाने ले आई। बलात्कार के इस मामले को सुलझाने के लिए पुलिस को कई मुश्किलों का सामना करना पड़ा। सबसे पहले तो पुलिस दुष्कर्म पीड़िता की भाषा नहीं समझ पा रही थी। इसके लिए चिमनगंज थाने के ASI दिनेश बरकड़े को बुलाना पड़ा, जिन्होंने महिला की बात सुनी तथा उसके साथ हुई पूरी आपबीती थाना प्रभारी को बताई। थाना प्रभारी ने अपराधियों की धरपकड़ के लिए सर्चिंग आरम्भ कर दी। लगभग 3 दर्जन CCTV फुटेज खंगालने के पश्चात् अपराधियों की पहचान हो पाई। फिर कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया। अपराधियों को पकड़ने के चलते स्थितियां कुछ ऐसी बनी की आरोपी भागते-भागते घायल हो गए, जिन्हें इलाज के लिए जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है।

बकरीद पर शराब पीने से रोका तो शाहजहां ने छोटे भाई को चाक़ू घोंपकर मार डाला, अब गिरफ्तार

तमिलनाडु में जहरीली शराब से मरने वालों की संख्या बढ़कर 47 हुई, निशाने पर आई स्टालिन सरकार

इस मुस्लिम देश ने हिजाब और सार्वजनिक ईद समारोह पर लगाया बैन ! नियम तोड़ा तो देना होगा भारी जुर्माना

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -