एक और बच्चे की मौत एमवाय अस्पताल में

Jun 01 2016 07:02 PM
एक और बच्चे की मौत एमवाय अस्पताल में

इंदौर- एमवाय अस्पताल में नवजात बच्चों की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. हाल ही में दो नवजातों को आक्सीजन के बजाय नाइट्रस गैस दे दिए जाने से मौत हो गई थी. अब तीसरे बच्चे ने भी दम तोड़ दिया. परिजनों ने डाक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाया है.

देपालपुर निवासी सुनीता पति नरसिंह पांचाल ने चार दिन पहले बालक को जन्म दिया था. जन्म के बाद से ही डाक्टरों ने बच्चा परिवार वालों को नहीं दिया और न ही उससे मिलने दिया गया और ना ही उसकी तबीयत के बारे में बताया. मंगलवार देर रात 3 बजे बच्चा परिवार वालों को थमा दिया और उन्हें रवाना करने की तैयारी भी कर ली.

बच्चे के मौसा पवन पांचाल का आरोप है कि लापरवाही से बच्चे की मौत हुई. न तो बच्चा रोया और नहीं कुछ बोल पा रहा था. यदि सही उपचार मिलता तो बच्चे की जान बच सकती थी. हालांकि अस्पताल प्रबन्धन ने परिवार को इतना डरा दिया कि वे बच्चे को सीधे घर ले गये. कोई कुछ बोलने को तैयार नहीं है.