बिहार में हुई एक और 'पकड़ौआ शादी', हैरान कर देने वाला है मामला

समस्तीपुर: बिहार के समस्तीपुर जिले में एक प्रेमी को रात में अपनी प्रेमिका के घर पहुंचना तथा उससे मिलना भारी पड़ गया। गांव के लोगों ने प्रेमी को प्रेमिका के साथ प्रेम का इजहार करते रंगे हाथ पकड़ लिया। घरवालों ने हंगामा किया तो पंचायत बैठी। पंचायत ने दोनों के शादी का फरमान सुना दिया। प्रेमी की इच्छा के खिलाफ उसे प्रेमिका के साथ गांव के ही मंदिर में ले जाया गया। 

गांव के लोगों के सामने शादी के सभी रस्म अदा की गई। घटना समस्तीपुर सदर अनुमंडल क्षेत्र के खानपुर थाना क्षेत्र के जहांगीरपुर पंचायत के डेकारी गांव का है। प्रेमी युगल को राधे कृष्ण मंदिर परिसर में पंडितों के मंत्रोच्चारण के बीच शादी के बंधन में बांधा गया। प्राप्त हुई खबर के अनुसार, गांव के लोगों ने प्रेमी शख्स को 5 दिसंबर की रात को लगभग 3:00 बजे लड़की के साथ घरवालों ने देख लिया। घरवालों के शोरगुल पर गांव के लोगों की भीड़ जुट गई। गांव के लोगों ने लड़के को धर दबोचा। 6 दिसंबर मंगलवार को दोपहर पंचायत के जनप्रतिनिधियों में पंचायत में दोनों की शादी का निर्णय सुनाया। पकड़े गए लड़के की पहचान जहांगीरपुर पंचायत के डेकारी वार्ड 5 निवासी रमेश महतो के तौर पर हुई। घटना का एक वीडियो भी वायरल हो रह है।

वीडियो में शख्स पूछे जाने पर अपनी गलती कबूल करते हुए बोलता है कि ‘मेरा लड़की से अवैध संबंध था लेकिन मैं इस शादी से संतुष्ट नहीं हूं। यह शादी मेरी इच्छा के खिलाफ हुई है।’ आगे उसने कहा, ‘मैं लड़की को अपने साथ रखूं या छोड़ दूं, यह मेरी इच्छा है। मैं इस शादी को नहीं मानता।’ 

नाबालिग लड़की से शादी करने जा रहा था 50 साल का दूल्हा, अचानक आ गई पुलिस...

'कोई नहीं है घर आ जाओ...' बोलकर प्रेमिका ने बुलाया घर, फिर जो हुआ...

सार्वजनिक नहीं की जाएगी सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम मीटिंग की जानकारी, याचिका ख़ारिज

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -