नोटबंदी पर अन्ना हजारे का सरकार को समर्थन

नई दिल्ली : समाजसेवी अन्ना हजारे द्वारा नोटबंदी के मामले में केंद्र सरकार का समर्थन किया गया है। उन्होंने 500 रूपए और 1000 रूपए के नोट्स बंद करने के निर्णय को लेकर केंद्र सरकार की सराहना की है। अन्ना हजारे का कहना था कि सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है और इससे एक बड़ा क्रांतिकारी परिवर्तन होगा। समाजसेवी अन्ना हजारे ने कहा कि सरकार के निर्णय से कालाधन, भ्रष्टाचार व आतंकियों की फंडिंग पर रोक लग जाएगी। पिछली सरकार ने काले धन पर रोक लगाने के लिए कभी इच्छाशक्ति नहीं दिखाई थी।

हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि कई राजनीतिक दल, लोगों से या जिसे दानदाता कहा जा सकता है उनसे दान लेते हें और दान देने वालों को 20 हजार रूपए से कम दिए जाने की रसीद दी जाती है। ऐसे में बड़े पैमाने पर रूपयों की हैरफेर की बात उन्होंने कही।

हालांकि उन्होंने सीधे तौर पर किसी पर भी आरोप नहीं लगाया। अन्ना का कहना था कि सरकार का यह निर्णय लोकतंत्र को मजबूत बनाएगा। सरकार ने एक बड़ा प्रयास किया है। इस मामले में बिलगेट्स ने कहा कि बड़े पैमाने पर ब्लैक मनी सामने आएगी और इससे चुनावी प्रक्रिया पारदर्शी बनेगी।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -