'25 हज़ार करोड़ का घोटाला..', अन्ना हजारे ने अमित शाह को पत्र लिखकर की जांच की मांग

मुंबई: सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने महाराष्ट्र की सहकारी चीनी मिलों को 'औने पौने दाम' में बेचने का इल्जाम लगाया है. उन्होंने केंद्रीय गृह और सहकारिता मंत्री अमित शाह को पत्र लिखते हुए कथित 25 हजार करोड़ के 'घोटाला' की जांच सर्वोच्च न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायाधी की निगरानी में कराने की मांग की है.

शाह को लिखे पत्र में अन्ना हजारे ने आग्रह किया है कि कथित घोटाले की जांच कराने के लिए सर्वोच्च न्यायालय के अवकाश प्राप्त न्यायाधीश की अध्यक्षता में उच्च अधिकार प्राप्त समिति का गठन किया जाए. हजारे ने अपने पत्र में लिखा कि, 'वर्ष 2009 से चीनी मिलों को औने पौने दाम पर बेचने और सहकारी वित्तीय संस्थानों में अनियमितता के खिलाफ हम प्रदर्शन कर रहे हैं. साल 2017 में हमने मुंबई में शिकायत दर्ज कराई और एक DIG स्तर के अधिकारी को इसकी तफ्तीश के लिए नियुक्त किया गया.' उन्होंने बताया कि दो वर्ष बाद मामले को बंद करने की रिपोर्ट लगाई गई जिसमें कहा गया कि कोई अनियमितता नहीं पाई गई है.

अन्ना हज़ारे ने सवाल करते हुए कहा कि, 'यदि महाराष्ट्र सरकार 25 हजार करोड़ रुपये के घोटाले के विरुद्ध कार्रवाई नहीं करेगी तो कौन कदम उठाएगा?' उन्होंने कहा कि केंद्र ने कृषकों के कल्याण और सहकारी क्षेत्र की बेहतरी के लिए सहकारिता मंत्रालय का गठन किया है. उन्होंने कहा कि, 'हमारा मानना है कि यह बेहतर उदाहरण होगा, यदि केंद्र सरकार, महाराष्ट्र की चीनी मिलों को बेचने की जांच उच्च स्तरीय बनाकर कराती है.' हजारे ने हालांकि, अपने पत्र में किसी सहकारी चीनी मिल का नाम नहीं लिया है.

पंजाब चुनाव के लिए नड्डा ने किया सीट बंटवारे का ऐलान, भाजपा-अमरिंदर में तय हुआ ये फार्मूला

'बालासाहेब पर राहुल गांधी से एक ट्वीट करवा कर दिखा दो..', शिवसेना को भाजपा की चुनौती

मुरलीधरन ने जगन रेड्डी सरकार पर तुष्टीकरण की राजनीति करने का आरोप लगाया

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -