अंजीर से दूर होगा अस्थमा और अनेकों बीमारियां

अंजीर से दूर होगा अस्थमा और अनेकों बीमारियां


अंजीर (common fig) एक स्वादिष्ट, स्वास्थवर्धक और बहुपयोगी फल है। इसके पके फल का सेवन किया जाता है और सुखा हुआ फल मेवे के रूप मे इस्तेमाल होता है। सूखे फल के बारीक़ टुकड़े करके उसे दूध मे मिलाकर पिने से बहुत फायदा होता है। अंजीर मे कैल्शियम तथा विटामिन A और B भरपूर मात्रा मे पाये जाते है। इससे कमजोरी दूर होती है और खांसी का भी नाश होता है। तो आइये जानते है कुछ लाभ अंजीर के बारे मे। 

अस्थमा रोकिये अंजीर खाकर -

अस्थमा की बीमारी मे अंजीर के पत्तो से राहत मिलती है। जो लोग इन्सुलिन लेते है उनके लिए ये बहतु लाभकारी होता है। इसमें  पोटैशियम की मात्रा अच्छी होती है। जिससे ब्लड और शुगर लेवल कंट्रोल मे रहता है। 

अंजीर खाइये ज़ुकाम रोकिए 

पानी मे 5 अंजीर को डालकर बॉईल कर ले और इस पानी को छानकर गरम-गरम सुबह और शाम मे पिए। इससे जुकाम मे लाभ होता  है। 

ताकत बढाइये अंजीर खाइये -

सूखे अंजीर के टुकड़े और छीले हुए बादाम को गरम पानी मे बॉईल करे। इसे सुखाकर इसमें दानेदार शक्कर, पीसी इलाइची, केसर, चिरोंजी, पिस्ता और बादाम बराबर मात्रा मे मिलाकर 7 दिन तक घी मे पड़ा रहने दे। रोजाना सुबह 20 gm तक सेवन करे। इससे आपकी ताकत बढ़ेगी। 

अंजीर खाने से और बीमारीयां दूर होती है जैसे कि 
1. सर दर दूर होता है। 
2. अंजीर को मसलकर रोजाना सुबह खाली पेट खाने से बवासीर दूर होती है। 
3. अंजीर की छाल, सौंठ, धनिया सब बराबर मात्रा मे ले और कूटकर रात को पानी मे भिगो दे। सुबह इसके रस को पीले। इससे आपकी  कमर दर्द की परेशानी दूर हो जाएगी।