हरियाणा कें स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज का बीफ कों लेकर विवादित बयान

Feb 10 2016 08:13 AM
हरियाणा कें स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज का बीफ कों लेकर विवादित बयान

हरियाणा: इस समय भारत में  बीफ (गौ मांस) एक गंभीर मुद्दा बना हुआ हैं| हर जगह इसें लेकर हर दिन कोईं न कोई खबर आती रहती हैं| कई जगह तों बीफ कों प्रतिबंधित कर दिया गया हैं| जहाँ कई लोगों कों इस फैसलें सें परेशानी हैं, तों कई लोगों नें इस फैसलें कि सराहना की हैं| मंगलवार कों बीफ मुद्दे सें जुड़ें बयांन देने वालें हरियाणा कें स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज अपनें बयान की वजह सें विवादों में घिरते नजर आ रहें हैं|

उन्होंने मंगलवार कों अपनें एक बयान में साफ़-साफ़ कह दिया कि जो लोंग बीफ खाए बिना नहीं रह सकतें हैं वो कृपया कर हरियाणा न आयें|  
ज्ञात हों कि बीफ कों लेकर हरियाणा में कानून तक बन गया हैं| जिसकें अंतर्गत यदि कोईं भीं गाय की तस्करी करतें गाय की हत्या करतें या फिर बीफ खाते हुयें पाया जायेगा, तों उसें तीन सें दस साल तक का कारावास हों सकता हैं|इस कानून कों मार्च में मंजूरी मिली थीं, जिसें नवम्बर सें सम्पूर्ण हरियाणा में लागू कर दिया गया था|

अनिल विज नें अपनें बयान पर जोर देते हुयें कहा कि हम भारतीय लोंग उन देशों में जाना पसंद नहीं करतें हैं, जहाँ का रहन- सहन और खान-पान हमें पसंद नहीं आता हैं, ठीक उसी तरह वों लोंग भीं हरियाणा में न आयें जों बिना बीफ खाएं नहीं रह सकतें हैं| विदित हों कि विज नें पिछलें साल गाय कों राष्ट्रिय पशु घोषित करनें कें लियें ऑनलाइन मुहिम भीं चलायी थीं|

राज्य में सरकार द्वारा विदेशियों कों बीफ खानें कि छूट देनें कि बात पर विज नें कहा कि मुख्यमंत्री मोहन लाल खट्टर नें सोमवार कों हीं इस बात पर अपना स्पष्टीकरण दें दिया हैं, कि राज्य सरकार द्वारा ऐसा कोईं भीं बयान नहीं दिया गया हैं| कानून सबकें लियें बराबर हैं और सब पर सामान लागू होगा| विदेशियों कों बीफ पर हरियाणा में कोईं भीं छूट नहीं मिलेंगी|