राज्यसभा के लिए प्रदेश से दो नेताओं ने भरा नामांकन

भोपाल : मध्यप्रदेश से भारतीय जनता पार्टी के राज्यसभा प्रत्याशी अनिल माधव दवे और एमजे अकबर ने नामांकन दाखिल कर दिया। इस दौरान भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्यालय से रैली के तौर पर दोनों ही प्रत्याशी विधानसभा पहुंचे। रैली में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित बड़े पैमाने पर विधायक और भाजपा कार्यकर्ता शामिल थे।

राज्यसभा की खाली हुई तीन सीट में से दो के लिए भारतीय जनता पार्टी की ओर से प्रत्याशी अनिल माधव दवे और एमजे अकबर ने नामांकन पर्चा दाखिल कर दिया। तीसरी सीट हेतु भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश महामंत्री विनोद गोटिया को निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में सामने रखा गया है। उन्होंने अपना नामांकन पत्र दायर कर दिया। कांग्रेस प्रत्याशी विवेक तन्खा हेतु मुश्किल बढ़ गई है।

मुख्यमंत्री शिवराजसिंह ने पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता एमजे अकबर को प्रदेश से राज्यसभा प्रत्याशी बनाने पर उन्होंने खुशी जताई। उनका कहना था कि केंद्रीय नेतृत्व ने यह निर्णय लिया इसे लेकर आभार है। इस दौरान केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर द्वारा कहा गया कि केंद्रीय नेताओं ने मध्यप्रदेश के क्षेत्र से एक और नेता चुना यह अच्छी बात रही। उन्होंने प्रत्याशी बनाए जाने को लेकर पार्टी को लाभ प्रदान करने की बात भी कही। प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत द्वारा यह कहा गया कि एमजे अकबर को राज्यसभा का प्रत्याशी बना दिया गया है।

यह मध्यप्रदेश के लिए बड़े सम्मान की बात है। उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश न्यायालय से तीन राज्यसभा सांसद अनिल माधव दवे, चंदन मित्रा, विजयलक्ष्मी साधौ का कार्यालय समाप्त होने जा रहा है। जिसके कारण कांग्रेस ने विवेक तन्खा और एमजे अकबर सहित अनिल माधव दवे को प्रत्याशी बना दिया गया है। तीन सीटों पर निर्वाचन 24 मई का जारी कर दिया गया। दरअसल नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि 31 मई रखी है। नामांकन पत्रों की जांच 1 जून रखी गई है तो दूसरी ओर 3 जून को प्रत्याशी द्वारा अपना नाम वापस लिया जा सकता है। वोटों की गिनती 11 जून को होगी।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -