ऐंड्रॉयड Q ओएस की रिसेंट स्क्रीन पर होगा ये ख़ास फीचर

ऐंड्रॉयड Q ओएस की रिसेंट स्क्रीन पर होगा ये ख़ास फीचर

लेटेस्ट ऐंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम ऐंड्रॉयड क्यू को लेकर गूगल की ओर से अभी बहुत से डीटेल्स ऑफिशली सामने नहीं आए हैं, लेकिन नए स्क्रीनशॉट्स में इसकी रिसेंट स्क्रीन दिखी है. साथ ही इस रिसेंट स्क्रीन पर गूगल ट्रांसलेट भी दिख रहा है. ऐसे में संभव है कि लेटेस्ट ऐंड्रॉयड ओएस की रिसेंट स्क्रीन पर सीधे गूगल ट्रांसलेट फीचर भी यूजर्स को मिले. फोटो से पता चलता है कि गूगल ट्रांसलेट 'टैबलेट' के आकार के ऑन-स्क्रीन बटन की तरह तभी बनकर आएगा, जब भी रिसेंट स्क्रीन पर यूजर को दिखने वाला पेज किसी अन्य भाषा में होगा. आइए जानते है पूरी विस्तार से 

सोनी ने 61-मेगापिक्सल का फुल-फ्रेम मिररलेस कैमरा A7R IV किया जारी

यूजर्स को अंग्रेजी बोलने वाला गूगल ट्रांसलेट तब दिखेगा, जब भी वे जर्मन, पुर्तगाली, चीनी, जापानी या ऐसी भाषाओं में कोई टेक्स्ट पढ़ रहे होंगे. इस 'गूगल ट्रांसलेट' बटन पर टैप करते ही ट्रांसलेशन पॉप-अप खुल जाएगा, जिसके ऊपर गूगल ट्रांसलेट लिखा होगा. एक टैब में ओरिजनल टेक्स्ट और दूसरे टैब में यूजर की भाषा में ट्रांसलेशन दिखाई देगा. यह नया ट्रांसलेट फीचर ऐंड्रॉयड पाई के ओसीआर एडिशन में मिलने वाले गूगल के 'टैप टू ट्रांसलेट' फीचर से मिलता-जुलता है. यहां लाउडस्पीकर आइकन पर टैप कर यूजर ट्रांसलेशन के बाद मिले टेक्स्ट को सुन भी सकेंगे. गूगल ट्रांसलेट का रिसेंट स्क्रीन में होना जहां कन्फर्म हो गया है, वहीं माना जा रहा है कि यह फीचर पिक्सल एक्सक्लूसिव हो सकता है. इस नए फीचर को पिक्सल लॉन्चर में देखा गया है और इसे 'प्रोऐक्टिव सजेशन' कहा जा रहा है. पिक्सल एक्सक्लूसिव होने का मतलब यह नहीं है कि यह फीचर ऐंड्रॉयड क्यू अपडेट पाने वाले बाकी डिवाइसेज को नहीं मिलेगा. गूगल अपने ऐंड्रॉयड ओएस के कई फीचर्स पहले पिक्सल सीरीज के डिवाइसेज को देता है. और बाद में इन्हें ऐंड्रॉयड अपडेट में शामिल कर बाकी डिवाइसेज को भी दिया जाता है.

Google Maps ने 24 शहरों के रोलआउट किया खास फीचर

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि रिसेंट स्क्रीन में दिखने वाले गूगल ट्रांसलेट फीचर को इसी आधार पर ऐसा फीचर माना जा रहा है, जो सभी ऐंड्रॉयड यूजर्स को मिलेगा. गूगल ट्रांसलेट ऐंड्रॉयड में पहले ही मिलता है, लेकिन यह अभी गूगल क्रोम वेब ब्राउजर के लिए एक्सक्लूसिव है. केवल क्रोम इस्तेमाल करने के दौरान वेब पेज पर दिख रहे टेक्स्ट को इससे ट्रांसलेट किया जा सकता है. अब रिसेंट स्क्रीन पर ट्रांसलेशन का विकल्प देकर गूगल इसे ज्यादा यूजर्स तक पहुंचाते हुए आसान बना रहा है. बता दें, प्ले स्टोर पर इसका अलग से ऐप भी मौजूद है और यह कन्नड़, मराठी, तमिल, तेलुगू और उर्दू जैसी भारतीय भाषाओं को भी सपॉर्ट करता है.

Twitter : नया डिजाइन आया सामने, जानिए क्या हुए बदलाव

Vivo Z1 Pro को ख़रीदे मात्र 99 रु में, ये है ऑफर डिटेल्स

आज Redmi 7A की दूसरी फ्लैश सेल होगी शुरू, उठाए खास ऑफर का लाभ