आंध्र प्रदेश सरकार ने IT सेक्टर के लिए पेश की नई पॉलिसी, हज़ारों युवाओं को मिलेगा रोज़गार

विशाखापत्तनम: कोरोना काल में आम जनता के लिए रोज़गार एक बड़ा सवाल बनकर खड़ा हो गया है. देश में बेरोजगारी दर तेजी से बढ़ रही है. इस बीच आंध्र प्रदेश सरकार ने सूचना प्रौद्योगिकी (IT) सेक्टर के लिए नई पॉलिसी लॉन्च की है. सरकार को इस नीति से आने वाले 3 वर्षों में बड़ी तादाद में रोजगार पैदा होने की उम्मीद है. सीएम वाई एस जगन मोहन रेड्डी के नेतृत्व में राज्य कैबिनेट ने भी इस पर मुहर लगा दी है.

आंध्र प्रदेश की जगन मोहन सरकार ने बुधवार को नई ‘आंध्र प्रदेश इंन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी पॉलिसी 2021-24’ पेश की. इस पॉलिसी से सरकार को IT सेक्टर में अगले 3 वर्षों में 55,000 नौकरियां पैदा होने की उम्मीद है. यदि ऐसा होता है तो इससे कोरोना काल के बीच हजारों इंजीनियरों का सपना पूरा होगा. सरकार का कहना है कि वह अपने IT, इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन विभाग को एक रिवेन्यू सेंटर में बदलेगी और स्वायत्तता हासिल करने की दिशा में कार्य करेगी.

पॉलिसी नोट के अनुसार, इससे जहां हजारों को लोगों को प्रत्यक्ष रोजगार मिलेगा. वहीं सरकार का टार्गेट इससे 1.65 लाख से ज्यादा अप्रत्यक्ष रोजगार पैदा करने का भी है.  इसलिए राज्य सरकार एक होलिस्टिक एप्रोच अपनाते हुए पूरे इकोसिस्टम का विकास करेगी.

Doctors Day: 'डॉक्टर्स भगवान का दूसरा रूप...', चिकित्सकों के बलिदान को पीएम मोदी ने किया नमन

PM केयर्स फंड में SBI का बड़ा योगदान, एक बार फिर दान किए 62.62 करोड़ रुपये

सेबी ने बीएसई पर धोखाधड़ी के लिए 4 संस्थाओं पर लगाया लाखों का जुर्माना

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -