आंध्र सरकार ने बंद की शराब की 33 फीसद दुकानें, इससे पहले 75 प्रतिशत बढ़ाए थे दाम

विशाखापत्तनम: आंध्र प्रदेश की जगन मोहन रेड्डी सरकार ने राज्य में शराब की दुकानों को 33 फीसद तक कम कर दिया है. लॉकडाउन के दौरान जगन मोहन सरकार ने शराब के दामों में 75 प्रतिशत तक का इजाफा किया था. शनिवार को जारी किए गए आदेश में अब राज्य में 4380 से 2,934 निजी शराब की दुकानें ही रह गई हैं. इस लिहाज से लगभग 33 प्रतिशत शराब की दुकानें कम कर दी गई हैं.

उल्लेखनीय है कि चुनाव से पहले सीएम वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने शराब मुक्त राज्य का वादा किया था. ऐसे में शराबबंदी की नीति को आगे बढ़ाते हुए सरकार की तरफ से इस तरह का फैसला लिया गया है. इससे पहले 43,000 बेल्ट की दुकानें सरकार द्वारा बंद की गई थीं. साथ ही शराब की बिक्री का वक़्त भी कम कर दिया गया था.

बताया जा रहा है कि अक्टूबर 2019 से मार्च 2020 तक की मियाद में शराब में 24% और बीयर की बिक्री में 55% की भारी गिरावट दर्ज की गई है. गत वर्षों की तुलना में 2020 में अवैध शराब, गिरफ्तारी और वाहनों की जब्ती बहुत ज्यादा है. वहीं, राज्य में 40 प्रतिशत बार कम कर दिए गए हैं. अब 840 में 530 बार ही चालु हैं.

इंडिगो एयरलाइन का बड़ा ऐलान, पूरे वित्त वर्ष में जारी रहेगी वेतन कटौती

इस टैक्स में राज्य सरकार ने दी 5 प्रतिशत की छूट

इतना बढ़ा भारत का विदेशी मुद्रा भंडार

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -