नक्सलियों के गढ़ में खिला कमल, नक्सलबाड़ी में रिकॉर्ड वोटों से जीते आनंदमय बर्मन

May 03 2021 11:32 AM
नक्सलियों के गढ़ में खिला कमल, नक्सलबाड़ी में रिकॉर्ड वोटों से जीते आनंदमय बर्मन

कोलकाता: 2 मई 2021 को चार राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में हुए विधानसभा चुनाव के परिणाम सामने आए। पश्चिम बंगाल में टीएमसी, असम में भाजपा और केरल में लेफ्ट फ्रंट सत्ता बचाने में कामयाब रहा है। वहीं पुडुचेरी में NDA को मौका मिला है, तो तमिलनाडु डीएमके ने जीत दर्ज की है। लेकिन इन सभी चुनावों में सबसे ज्यादा चर्चा बंगाल में तृणमूल कांग्रेस (TMC) की जीत को लेकर हो रही है। किन्तु, बंगाल के जनादेश में कुछ संदेश भी छिपे हुए हैं, जो बताते हैं कि भले ही इस बार केरल में लेफ्ट ने जीत दर्ज की हो, लेकिन जिसे लेफ्ट का किला माना जाता है, वहां इस बार कमल खिला है। 

दरअसल, मतिगारा-नक्सलबाड़ी सीट से भाजपा उम्मीदवार आनंदमय बर्मन ने रिकॉर्ड जीत दर्ज की है। इस सीट से कुल छह उम्मीदवार चुनावी संग्राम में अपनी किस्मत आजमाने उतरे थे। इस बार CPIM-कांग्रेस और ISF गंठबंधन से यह सीट कांग्रेस के पाले में आई थी।  कांग्रेस ने इस सीट से अपने मौजूदा MLA शंकर मालाकार को एक बार फिर से चुनावी मैदान में उतारा, लेकिन उनकी हार हुई। भाजपा के आनंद बर्मन ने TMC के राजने सुंदास को 70848 वोटों से मात दी है।

बता दें कि मतिगारा-नक्सलबाड़ी विधानसभा सीट पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग जिले के अंतर्गत आती है। इस सीट पर पहली दफा साल 2011 में पहली बार विधानसभा का चुनाव हुआ था। जिसमें कांग्रेस के टिकट पर संकर मालाकार पहली बार निर्वाचित हुई थी। 2016 के विधानसभा चुनाव में वो दूसरी बार यहां से MLA चुने गए और उन्होंने टीएमसी के अमर सिन्हा को 18627 वोटों के मार्जिन से मात दी थी।

ममता की जीत पर राजद नेता ने अनोखे अंदाज़ में मनाया जश्न, माँगा अमित शाह का इस्तीफा

ममता बनर्जी, 'दीदी' नहीं पश्चिम बंगाल के 'दादा' हैं

केरल: कांग्रेस के शीर्ष नेताओं ने शान से अपनी हार को किया स्वीकार