इस राज्य में बनाया गया अनोखा अनाज बैंक, लॉकडाउन में गरीबों को मिल रही मदद

जांजगीर-चांपा: वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए देश भर में 21 दिन का लॉकडाउन लागू किया गया है। इस मुश्किल दौर में लोगों की सहायता के लिए छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा जिले के सभी तहसीलों और नगरीय क्षेत्रों मे अनाज बैंक बनाए गए है। जिसमें लॉक डाउन से प्रभावित गरीब, बेसहारा जरूरतमंदों की पहचान कर उन्हें राशन बांटा जा रहा है।

अनाज बैंक के सुव्यवस्थित संचालन के लिए सभी तहसीलदारों को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है उनके सहयोग के लिए पटवारियों और अन्य विभागीय कर्मचारियों को ड्यूटी पर तैनात किया गया है। अनाज बैंक की वजह से लोग सड़कों पर समूह बनाकर दान नहीं कर पा रहे हैं। सभी अपना दान अनाज बैंक में ही जमा कर रहे हैं जिससे लॉकडाउन के दौरान सोशन डिस्टेंसिंग के साथ ही धारा 144 का भी पालन अपने आप ही हो जा रहा है।

आपको बता दें कि विधान सभा अध्यक्ष डॉ। चरण चरण दास महंत ने कलेक्टर को पत्र भेजकर अनाज बैंक की स्थापना के लिए पहल की थी, जिसके बाद कलेक्टर ने अनाज बैंक को स्थापित किया, इसका फायदा भी नजर आने लगा है। अब यहाँ पर हर जरुरत मंद को मदद मिलती है और उसे पेट भरने के लिए अनाज दिया जाता है।

भारत में नौकरियों पर गहराया संकट, लॉक डाउन से 30 फीसद लोग हो जाएंगे बेरोज़गार

कोरोना की मार से उबरा बाज़ार, आज दिनभर जमकर हुआ कारोबार

पाक एयरलाइंस की गलती से कोरोना का शिकार हुए पायलट, सुरक्षा को लेकर भड़का 'पलपा'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -