असम सीएम हिमंत सरमा ने की 'एमनेस्टी इंटरनेशनल' पर बैन लगाने की मांग, बताया बड़ा कारण

Jul 21 2021 10:24 AM
असम सीएम हिमंत सरमा ने की 'एमनेस्टी इंटरनेशनल' पर बैन लगाने की मांग, बताया बड़ा कारण

गुवाहाटी: असम के सीएम हिमंत बिस्वा सरमा ने मंगलवार को Pegasus रिपोर्ट पर वामपंथी मीडिया के साथ अंतरराष्ट्रीय समूह को मोदी सरकार को बदनाम करने के लिए जमकर खरी खोटी सुनाई। सीएम सरमा ने कहा कि, 'कुछ मीडिया आउटलेट्स ने कहा है कि कुछ लोगों को चिन्हित करके उनकी जासूसी की जा रही है, किन्तु वह इसकी पुष्टि नहीं कर सकते कि क्या उनकी गोपनीयता से कोई समझौता किया गया था। यह कैसी पत्रकारिता है? एमनेस्टी इंटरनेशनल और कुछ अन्य अंतरराष्ट्रीय समूह भारतीय लोकतंत्र और मोदी सरकार को बदनाम करने की साजिश क्यों रच रहे हैं?”

सीएम हिमंत सरमा ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो शेयर किया है। वीडियो में सीएम हिमंत ने कहा कि, 'एमनेस्टी इंटरनेशनल का भारतीय लोकतंत्र को बदनाम करने और यहाँ की सरकार के विरुद्ध षड्यंत्र रचने का लंबा इतिहास रहा है। मैं इस साजिश की कड़ी निंदा करता हूँ और मोदी सरकार से ऐसे संगठनों की गतिविधियों पर बैन लगाने की माँग करता हूँ, जो हमारे देश को बदनाम करने और नुकसान पहुँचाने पर अमादा हैं।'

Pegasus रिपोर्ट पर असम सीएम सरमा ने कहा कि, 'मैं भारत सरकार से देश में एमनेस्टी इंटरनेशनल के कामकाज पर बैन लगाने का आग्रह करता हूँ। मुझे लगता है कि एमनेस्टी इंटरनेशनल के विरूद्ध कांग्रेस पार्टी को भी केंद्र सरकार से हाथ मिलाना चाहिए। वे हमारे देश को हर समय इस प्रकार बदनाम नहीं कर सकते हैं।'

ट्रंप के शीर्ष सहयोगी पर विदेशी एजेंट के तौर पर काम करने का लगाया आरोप

येदियुरप्पा के समर्थन में उतरे लिंगायत धर्मगुरु, बोले- उनका सीएम पद पर बने रहना जरुरी

घर जाने के लिए कोरोना संक्रमित शख्स ने पहना बुर्का, लेकिन इस छोटी-सी गलती ने खोल दी पोल