अवध की सीटों पर शाह की नजर, प्रबंधकों को दिया जीत का मंत्र

लखनऊ : बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने सोमवार रात यहां अवध क्षेत्र में चुनाव प्रबंधन से जुड़े लोगों को जीत का मंत्र देने के साथ ही असंतुष्टों को साधने पर जोर दिया। उन्होंने समझाया कि दिल्ली के ताज के लिए अवध की 16 सीटों पर भाजपा का परचम फहराना जरूरी है। बता दें सभी पार्टियां अपने - अपने स्तर पर तैयारियां कर रहे है.  

राजस्थान से चुनाव लड़ रहे केंद्रीय मंत्रियों के लिए सीएम गेहलोत ने कही ऐसी बात

सभी के साथ की चर्चा 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार शाह ने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्रनाथ पांडेय, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रदेश प्रभारी जेपी नड्डा, महामंत्री संगठन सुनील बंसल और अवध क्षेत्र के प्रभारी जेपीएस राठौर के साथ देर रात बैठक कर सभी 16 सीटों के प्रभारियों, संचालक, जिलाध्यक्ष और जिला प्रभारियों के साथ चुनाव प्रबंधन पर बात की। अवध क्षेत्र में लखनऊ, मोहनलालगंज, रायबरेली, उन्नाव, सीतापुर, धौरहरा, लखीमपुर, हरदोई, मिश्रिख, फैजाबाद, बाराबंकी, अंबेडकरनगर, गोंडा, श्रावस्ती, बहराइच और कैसरगंज लोकसभा क्षेत्र हैं। 

भाजपा में नोटबंदी, जीएसटी पर बात करने की हिम्मत नहीं : केजरीवाल

इस बार नये उम्मीदवार है मैदान में 

जानकारी के मुताबिक भाजपा ने अवध की 16 सीटों को सीतापुर, अयोध्या, गोंडा और लखनऊ क्लस्टर में बांटा है। इस बार अवध क्षेत्र में कई नए चेहरे हैं। छह लोकसभा क्षेत्रों में भाजपा ने नये उम्मीदवार उतारे हैं। पिछले लोकसभा चुनाव में अवध क्षेत्र की 16 सीटों में रायबरेली को छोड़कर 15 पर भाजपा जीती थी। रायबरेली में तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने चुनाव जीता था।

लोकसभा चुनाव के पहले चरण का मतदान 11 को, आज प्रचार का अंतिम दिन

जम्मू में बोले राजनाथ सिंह- राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ किसी तरह का समझौता नहीं कर सकते

तेज बारिश के कारण स्थगित हुई स्मृति ईरानी की जनसभा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -