MP: कोयला संकट के बीच ठप पड़ा 500 मेगावाट उत्पादन की क्षमता वाला पावर प्लांट

भोपाल: देशभर में कई राज्य ऐसे हैं जो इस समय कोयला संकट से लड़ रहे हैं। इसी लिस्ट में मध्य प्रदेश भी शामिल है। हालाँकि अब यहाँ से एक और बड़ी खबर आई है। जी दरअसल यहाँ के उमरिया (Umaria) में एक पावर प्लांट ठप पड़ गया ( Power Plant)। मिली जानकारी के तहत मध्य प्रदेश पावर जनरेटिंग कंपनी लिमिटेड (एमपीपीजीसीएल) की कोयले से चलने वाली 500 मेगावाट वाली यूनिट में बीते गुरुवार से उत्पादन ठप पड़ा है।

आप सभी को बता दें कि इस बारे में एमपीपीजीसीएल के प्रबंध संचालक मनजीत सिंह का कहना है कि ‘ट्यूब लीकेज’ के कारण उमरिया स्थित संजय गांधी थर्मल पावर प्लांट पर 500 मेगावाट उत्पादन की स्थापित क्षमता वाला प्लांट ठप हो गया है। इसी के साथ उन्होंने यह भी कहा कि, 'कोयले की कमी से प्रदेश में करीब 1000 मेगावाट थर्मल पावर उत्पादन प्रभावित हुआ है।' वहीं उनका कहना है कि, '15 रैक के बजाय हमें अपने थर्मल पावर स्टेशनों को चलाने के लिए हर दिन करीब 10 रैक कोयला मिल रहा है।'

इसी के साथ उन्होंने यह भी जानकारी दी है कि, 'हमें कुछ दिन पहले सिर्फ 7 रैक मिल रहे थे। इसलिए इसे देखते हुए राज्य को कोयले की आपूर्ति में अब सुधार हुआ है। एक रैक में 4,000 टन कोयला आता है, जो मध्य प्रदेश को ‘वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड’ (डब्ल्यूसीएल), ‘साउथ ईस्टर्न कोलफील्ड्स’ (एसईसीएल) और ‘नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड’ (एनसीएल) से मिलता है।' दूसरी तरफ ग्रामीण क्षेत्रों में लोग बिजली कटौती की शिकायत कर रहे हैं लेकिन मध्य प्रदेश पावर मैनेजमेंट कंपनी लिमिटेड (एमपीपीएमसीएल) के एक अधिकारी का दावा है कि, 'प्रदेश के किसी भी क्षेत्र बिजली कटौती नहीं की जा रही है।'

लखीमपुर हिंसा: जल्द बेनकाब होंगे अपराधी, पुलिस को मिले 39 अहम वीडियो

MP: दशहरा पूजन के बाद मिठाईवाले ने किए हर्ष फायर, मासूम को लगी गोली

चेन्नई की जीत के बाद खुशी से झूम उठीं धोनी की पत्नी और बेटी, वीडियो देख यूजर्स को आया प्यार

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -