पाकिस्तान से भयभीत हुआ अमेरिका, अपने नागरिकों को कही ये बात

Aug 13 2020 07:08 PM
पाकिस्तान से भयभीत हुआ अमेरिका, अपने नागरिकों को कही ये बात

महामारी कोविड-19 और आतंकी विपत्ति के मद्देनजर अमेरिका ने अपने नागरिकों को पाकिस्तान नहीं जाने की राय दी है. विदेश मंत्रालय की ताजा ट्रैवल एडवाइजरी के अनुसार सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीएस) ने पाकिस्तान के लिए ट्रैवल स्वास्थ समन जारी किया है. एडवाइजरी में कहा गया है कि कोरोना के कारण यात्रियों को अंतरराष्ट्रीय बार्डर सील होने, विमान यात्रा बंद होने व परिवहन प्रतिबंध जैसी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है.

चीन के 3 नेताओं के रिश्तेदारों के पास है हांगकांग में कई गुना सम्पति

बता दे कि अमेरिकी नागरिकों को बलूचिस्तान और खैबर पख्तूनख्वा प्रांत न जाने की राय भी दी गई है. इसकी कारण आतंकवाद और अपहरण की शंका जताई गई है. इसके अलावा आतंकवाद के चलते नियंत्रण रेखा पर सशस्त्र संघर्ष का खतरा भी जताया गया है.एडवाइजरी के अनुसार, पाकिस्तान में आतंकी समूह लगातार हमले कर रहे हैं. पाकिस्तान में आतंकवाद का इतिहास पुराना है और यहां हिंसा को कट्टर विचारधारा की भरपूर सहायता मिल रही है. इसी के चलते कट्टरपंथी शक्ति सेना, पुलिस और आम लोगों को एक समान रूप से निशाना बना रहे हैं.

लंदन में बढ़ी कोरोना की मार, एक दिन में 77 लोगों ने गवाई अपनी जान

अमेरिका वक्त-वक्त पर अपने नागरिकों के लिए एडवाइजरी लागू की गई है. इधर पिछले दिनों से अमेरिका और पाकिस्तान के मध्य भी थोड़े तल्ख हुए हैं. वहां निरंतर एक्टिव आतंकी संगठनों के कारण अमेरिका ने अपने नागरिकों के लिए यह ताजा एडवाइजरी जारी की है.इससे पहले कोरोना वायरस के कारण अमेरिका ने चीन के लिए नई ट्रैवल एडवाइजरी की थी. इस दौरान यहां यात्रा की सलाह नहीं दी जा रही थी. चीन को अमेरिका ने लेवल चार की श्रेणी में रखा है. बता दें कि वुहान (चीन का शहर) से ही कोविड-19 महामारी की प्रारंभ हुई थी. इस वजह से एहतियात बरतने की राय दी गई थी.

ब्राज़ील में बढ़े कोरोना के केस, 24 घंटों में इतने हुए मामले

पाक संसद के निचले सदन में FATF के 4 विधेयक हुए लागू

H-1B वीजा धारकों के लिए बड़ी खबर, ट्रम्प ने जारी की कुछ नई शर्तें