क्या भारत और पाकिस्तान के बीच सुलह का रास्ता खोल पाएंगे ट्रंप ?

क्या भारत और पाकिस्तान के बीच सुलह का रास्ता खोल पाएंगे ट्रंप ?

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव कम करने की कोशिश कर रहे है. अपने भारत आने से पहले ट्रंप पाकिस्तान से नाराजगी कम कराने का प्रयास कर है. ट्रंप के दौरे से ठीक पहले व्हाइट हाउस ने शुक्रवार को जोर देते हुए कहा कि दोनों पड़ोसियों(भारत और पाकिस्तान) के बीच कोई सफल वार्ता तभी संभव होगी, जब पाकिस्तान अपनी जमीन पर आतंकवादियों और चरमपंथियों के खिलाफ कार्रवाई कर उनके खिलाफ शिकंजा कसेगा.

FATF ने ईरान को किया ब्लैक लिस्ट, कहा- 'हालात सुधारने के लिए...'

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि पिछले साल 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को समाप्त करने के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ गया था. भारत के फैसले ने पाकिस्तान से तीखी प्रतिक्रियाएं पैदा कीं, जिसके बाद पाकिस्तान ने भारत के साथ अपने राजनयिक संबंधों को कम किया और भारतीय दूत को पाकिस्तान से वापस भेज दिया.

अपनी हार के बाद आयरलैंड के पीएम ने दिया अपने पद से इस्तीफा...

इस मामले को लेकर ट्रंप प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी से जब सवाल किया गया कि क्या ट्रंप अपनी आगामी भारत यात्रा के दौरान कश्मीर मुद्दे पर फिर से मध्यस्थता करने की पेशकश करेंगे, इसके जवाब में उन्होंने कहा, 'मुझे लगता है कि आप राष्ट्रपति से जो सुनेंगे, वह भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव को कम करने के लिए दोनों देशों को एक-दूसरे के साथ द्विपक्षीय वार्ता में शामिल होने के लिए प्रोत्साहित करना चाहते है.'

पांच करोड़ 50 लाख साल पुराना है यह रेगिस्तान, भरे है बड़े रहस्य

अमेरिका की बड़ी घोषणा, सिखों को दी जाएगी धार्मिक चिह्नों के साथ कार्य करने की सुविधा

FATF ने पहले ईरान को किया ब्लैक लिस्ट, अब ग्रे लिस्ट में म्यांमार को डाला