भारत की मदद के लिए आगे आया US, देगा 8 करोड़ कोरोना वैक्सीन

नई दिल्ली: भारत को यूनाइटेड नेशंस (UN) के समर्थन वाले 'कोवैक्स' वैश्विक टीका साझा कार्यक्रम के माध्यम से कोविड-19 रोधी आठ करोड़ टीके मिलेंगे। अमेरिका के विदेश विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस संबंध में जानकारी दी है। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने दो जून को ऐलान किया था कि उनका देश दक्षिण तथा दक्षिणपूर्व एशियाई देशों के साथ अफ्रीका को कोवैक्स कार्यक्रम के माध्यम से अपने भंडार से कोरोना की 2.5 करोड़ वैक्सीन में से करीब 1.9 करोड़ वैक्सीन आवंटित करेगा। यह कदम उनके प्रशासन के जून के आखिर तक दुनियाभर में आठ करोड़ टीके आवंटित करने के मकसद का हिस्सा है।

व्हाइट हाउस द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, कोवैक्स के जरिए लगभग 1.9 करोड़ टीके आवंटित किए जाएंगे। विदेश विभाग के प्रवक्ता नेड प्राइस ने बुधवार को एक प्रेस वार्ता को सम्बोधित करते हुए कहा कि, ''मेरे पास इस बारे में सटीक जानकारी नहीं है कि वैक्सीन भारत में कब पहुंचेंगी। जाहिर तौर पर भारत को आठ करोड़ वैक्सीन मिलेंगे और मेरी जानकारी के अनुसार, इस क्षेत्र को लगभग 60 लाख टीके दिए गए। हम जानते हैं कि भारत पर इस महामारी का गंभीर असर पड़ा है और हमने इन टीकों के संबंध में सहायता की है ।

उन्होंने आगे कहा कि टीका साझा करने के इस ऐलान से पहले भी मदद की। हमने भारत में अपने साझेदारों के साथ निकटता से काम करने की प्रतिबद्धता दिखाई, ताकि इस महामारी से निपटने में उसकी सहायता की जा सके।'' एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि बाइडन प्रशासन भारत की सरकार और लोगों को इस महामारी से निपटने में सहायता करने की अपनी प्रतिबद्धता पर अड़िग है।

'ग्लोबल वेल्थ रैंकिंग' में अडानी-अंबानी का जलवा, जैक मा जैसे चीनी अरबपति को छोड़ा पीछे

शंघाई अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह में दिखाई जाएगी कूझंगल

शुरुआती कारोबार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 3 पैसे की तेजी के साथ खुला रुपया

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -