अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन ने UN सुरक्षा परिषद में दिया प्रस्‍ताव, आतंकी मसूद अज़हर पर लगाओ बैन

नई दिल्‍ली : पुलवामा में हुए आतंकी हमले को अंजाम देने वाले आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद के सरगना आतंकी मौलाना मसूद अजहर पर प्रतिबन्ध लगाने के लिए संयुक्‍त राष्‍ट्र की सुरक्षा परिषद में प्रस्‍ताव लाया गया है. बुधवार को अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन ने आतंकी मसूद अजहर पर बैन लगाने और उसे प्रतिबंधित सूची में डालने को लेकर सुरक्षा परिषद में प्रस्‍ताव दिया है.

डॉलर के मुकाबले 28 पैसे की कमजोरी के साथ खुला रुपया

फ्रांस, अमेरिका और ब्रिटेन ने बुधवार को प्रस्‍ताव प्रस्तुत करते हुए संयुक्‍त राष्‍ट्र की सुरक्षा परिषद से कहा है कि आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद के सरगना आतंकी मौलाना मसूद अजहर पर बैन लगाया जाए. उसकी वैश्विक यात्राओं पर बैन लगाया जाए. साथ ही उसकी सभी संपत्ति जब्त की जाए. उल्लेखनीय है कि 14 फरवरी को हुए पुलवामा आतंकी हमले की जिम्‍मेदारी पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद ने ली है. मौलाना मसूद अजहर इस संगठन का चीफ है. बता दें कि फ्रांस संयुक्त राष्ट्र की तरफ से प्रतिबंधित किए गए आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर पर बैन लगाने के प्रस्ताव पर कार्य कर रहा है और कहा जा रहा था कि वह शक्तिशाली संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की मार्च में अध्यक्षता मिलने के बाद के बाद इस प्रस्ताव को प्रतिबंध समिति के सामने रख सकता है.

कारोबारी सप्ताह के चौथे दिन मजबूती के साथ खुले शेयर बाजार

सूत्रों ने कहा, 'फ्रांस जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों को बैन किए जाने के अनुरोधों को जल्द से जल्द 1267 प्रतिबंध समिति के सामने रखने पर अपना ध्यान केंद्रित कर रहा है.' पाकिस्तान से संचालित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में हुए फिदायीन हमले की जिम्मेदारी ली थी. इस हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के 44 से अधिक जवान शहीद हो गए थे जिसके बाद देश में आक्रोश फ़ैल गया था.

खबरें और भी:-

युवा संसद लोकतंत्र को मजबूत करने का अंग : पीएम मोदी

भारतीय वायुसेना ने पीओके में की एयर स्ट्राइक, आनंद महिंद्रा ने किया भावुक ट्वीट

डॉलर के मुकाबले कमजोरी के साथ खुला रुपया

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -