भारत को मिली हार तो ओबामा ने मनाया जश्न

भारत को मिली हार तो ओबामा ने मनाया जश्न

वॉशिंगटन : विश्व व्यापार संगठन में हुई भारत की हार का अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने जमकर जश्न मनाया। ट्रेड फैसिलिटेशन एंड ट्रेड इंफोर्समेंट एक्ट 2015 में हस्ताक्षर के दौरान ओबामा ने कहा कि उनका प्रशासन व्यापार नीतियों को लागू करने के लिए आक्रामक तरीके से आगे बढ़ेगा। ओबामा ने कहा कि अमेरिका इस बात की इजाजत कभी नहीं देगा कि कोई दूसरा देश अमेरिकी कंपनियों औऱ कामगारों को नुकसान पहुंचा सके।

उन्होने कहा कि इसके लिए हम व्यापार कानून को तेजी से लागू करेंगे। उन्होने कहा कि डब्ल्यूटीओ के सामने अमेरिका ने किसी भी अन्य देश की तुलना में अधिक मामले पेश किए है औऱ सभी में जीत भी मिली है।

बता दें कि डब्ल्यूटीओ के एक पैनल ने भारत के खिलाफ फैसला सुनाया था। फैसले में भारत की ओर से लगाई गई घरेलू उत्पादकों से खरीदारी की अनिवार्यता को अमेरिकी कंपनियों के साथ भेदभाव बताया गया था। भारत ने इस फैसले को चुनौती देने की बात कही है। 

उल्लेखनीय है कि भारत ने अपने सौर ऊर्जा कार्यक्रम के तहत सोलर कंपनियों के साथ बिजली खरीद समझौते में घरेलू खरीद का प्रावधान कर रखा है। इस शर्त के तहत करार करने वाली सोलर कंपनी को भारत में निर्मित सेल और मॉड्यूल का इस्तेमाल करना होगा यानि ऐसी कंपनी अमेरिका या किसी अन्य देश से आयातित सौर ऊर्जा उत्पादों या टेक्नोलॉजी का उपयोग नहीं कर सकती हैं।

दूसरी ओर ओबामा प्रशासन ने बंधुआ मजदूरी से बने उत्पादों को आयात करने पर प्रतिबंध लगा दिया है। इससे जुड़े विधेयक पर ओबामा ने गुरुवार को हस्ताक्षर किया।