अंबेडकर के सिद्धांत आज भी प्रासंगिक-राज्यपाल

Nov 18 2016 08:24 PM
अंबेडकर के सिद्धांत आज भी प्रासंगिक-राज्यपाल

इंदौर :  प्रदेश के प्रभारी राज्यपाल ओपी कोहली ने कहा है कि संविधान निर्माता डाॅ. भीमराव अंबेडकर का जीवन दर्शन व्यापक तो था ही, उनके सिद्धांत आज भी प्रासंगिक है। राज्यपाल कोहली ने यह बात शुक्रवार को महू में आयोजित एक कार्यक्रम में कही।

वे यहां स्थित डाॅ. बीआर अंबेडकर सामाजिक विज्ञान विश्वविद्यालय में आयोजित प्रथम दीक्षांत समारोह में हिस्सा लेने के लिये आये थे। उन्होंने कार्यक्रम में मौजूद शिक्षकों और विद्यार्थियों से यह अनुरोध किया कि वे अंबेडकर के आदर्शों को जीवन में उतारे और देश, विश्व में प्रचार प्रसार करें। कोहली ने अंबेडकर को महान समाजसेवी भी बताया। उन्होंने आज के विज्ञान में समाज विज्ञान का भी महत्व रेखांकित किया और कहा कि विश्वविद्यालय अपने उद्देश्यों में सार्थक सिद्ध हो रहा है क्योंकि यह सामाजिक कुरीतियों को खत्म करने की दिशा का समर्थन करता है।

उन्होंने देश में आर्थिक और सामाजिक असमानता पर चिंता व्यक्त करते हुये इन्हें दूर करने की अपील की। कार्यक्रम में केन्द्रीय मंत्री थावरचंद गेहलोत भी विशेष रूप से मौजूद थे।

शंकराचार्य ने अंबेडकर पर बोला हमला, कहा उन्होने गलती की