जिस आमान ने किया हिन्दू लड़की का बलात्कार, मौलाना ने जबरन उसी से करवा दिया निकाह, अब गिरफ्तार

जिस आमान ने किया हिन्दू लड़की का बलात्कार, मौलाना ने जबरन उसी से करवा दिया निकाह, अब गिरफ्तार
Share:

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले में पुलिस ने हिन्दू युवती को इस्लाम में धर्मान्तरित करने वाले मौलाना को गिरफ्तार किया है। रिपोर्ट के अनुसार, मौलाना का नाम शाने आलम है। शाने आलम ने पीड़िता का बलात्कार करने वाले आरोपी से ही उसका निकाह करवा दिया था। मौलाना तक़रीबन 20 दिनों से फरार चल रहा था। उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने 25 हजार रुपए का इनाम भी रखा था। शाने आलम की गिरफ्तारी रविवार (2 जून 2024) को हुई है।

 

रिपोर्ट के अनुसार, यह मामला गाजियाबाद के थानाक्षेत्र अंकुर विहार का है। यहाँ 16 मई को एक 18 साल की हिन्दू लड़की ने पुलिस में शिकायत दी थी। शिकायत में पीड़िता ने बताया था कि करीब 4 महीने पहले वह एक फैक्ट्री में नौकरी करती थी। इसी फैक्ट्री में अनम नाम की एक अन्य मुस्लिम लड़की भी नौकरी करती थी। दोनों लड़कियों में दोस्ती हो गई। एक दिन जब अनम काम पर नहीं आई, तो पीड़िता उसको खोजते हुए उसके घर जा पहुँची। यहाँ घर पर अनम नहीं था, सिर्फ उसका भाई अमान था। अमान ने वहीं पीड़िता का बलात्कार किया और उसके बाद ब्लैकमेल करने लगा।

करीब 2 महीने पहले अमान डरा-धमकाकर पीड़िता को अपने साथ अमरोहा ले गया। यहाँ उन्हें मौलाना शाने आलम मिला, जिसने उर्दू में लिखे 3 दस्तावेज़ों पर पीड़िता के हस्ताक्षर करवा दिए। इसके बाद मौलाना ने जबरन पीड़िता का निकाह अमान से करवा दिया।  यही नहीं आरोपी मौलाना ने लड़की का नाम बदल कर कुलसुम रख दिया। इसके बाद अमान ने लड़की को 2 माह तक अमरोहा की किसी गुमनाम जगह पर रखा और उसका शोषण करता रहा। 2 माह बाद वह लड़की को लेकर गाजियाबाद के DLF इलाके में आकर रहने लगा।

पीड़िता भी मूलतः गाजियाबाद के लोनी इलाके की निवासी थी। 14 मई को वह मौका देखकर आरोपी के चंगुल से भाग निकली और अपने घर पहुंची, जहाँ उसने पूरी बात बताई। 16 मई को उसने आरोपित अमान और मौलाना शाने आलम के खिलाफ थाने में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने इन दोनों पर IPC की धारा 376 के साथ यूपी विधि विरुद्ध धर्म सम्परिवर्तन प्रतिषेध अधिनियम की धारा 3/5(1) के तहत केस दर्ज कर लिया। FIR दर्ज करने के अगले ही दिन पुलिस ने 17 मई को अमान को गाजियाबाद से ही अरेस्ट कर जेल भेज दिया।

अमान की गिरफ्तारी और खुद पर FIR दर्ज होने का पता चलने के बाद 38 वर्षीय मौलाना शाने आलम फरार हो गया। पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी के लिए 25 हजार रुपए का इनाम रखा। आरोपित की तलाश में लगातार छापेमारी भी की जा रही थी। रविवार (2 जून) को पुलिस ने  मौलाना की सटीक लोकेशन का पता लगा लिया और उसे दबोच लिया। पूछताछ में शाने आलम ने अमान को अपना रिश्तेदार बताया। मौलाना ने कहा कि अमान एक हिन्दू लड़की को लाया था और उस से निकाह करवाने की गुजारिश की थी। मौलाना शाने आलम अमरोहा शहर के फिरदौस मस्जिद इलाके का निवासी है। पुलिस ने आवश्यक कानूनी कार्रवाई कर के उसे जेल भेज दिया गया है।

MP में घटी श्रद्धा हत्याकांड जैसी घटना! नदीमउद्दीन ने पत्नी के 14 टुकड़े कर फेंके, देखकर पुलिस भी रह गई सन्न

लड़कियों से निकाह कर उन्हें बेचना सलीम का पेशा, 8वीं बीवी से करवा रहा था जिस्मफरोशी ! थाने पहुंची पीड़िता

अपने ही 4 बच्चों को टंकी में फेंक कर मां ने दी दर्दनाक मौत, फिर जो किया वो कर देगा हैरान

रिलेटेड टॉपिक्स
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -