सभी को मिलकर करना होगा समस्या का समाधान

Apr 23 2015 02:09 PM
सभी को मिलकर करना होगा समस्या का समाधान
नई दिल्ली : किसानों की आत्महत्या का विषय देश के लिए चिंता का विषय रहा। समय समय पर सरकारें उनसे जो हुआ करती रही है। कल की घटना की जो पीड़ा रही उसकी अभिव्यक्ति सदन के सभी सदस्यों ने की। मैं भी इसमें भागीदार हूं। हम सब मिलकर इस समस्या का समाधान कैसे ढूंढे यह विचार करना होगा। 

यह बात आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद के सत्र के दौरान सांसदों को संबोधित करते हुए कही। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बीते दिन दिल्ली के जंतर - मंतर पर आयोजित किसान रैली पर किसा द्वारा की गई आत्महत्या के मसले पर अपनी संवेदना व्यक्त कर रहे थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि किसान की जिंदगी से इंसान की जिंदगी से बड़ी कोई चीज नहीं है। 

इस सदन की पीड़ा को मैं अपने साथ जोड़ते हुए यहां मौजूद हैं। उन्होंने कहा कि समस्या बहुत पुरानी और गहरी है। हमें सोचना होगा कि हम कहां गलत रहे। वे कौन सी कमियां रहीं, पिछले 10 महिनों में क्या कमियां रहीं। इस विषय में पूरे मन से जिस तरह के सुझाव आए उस पर ध्यान देना होगा। आज की चर्चा में संकल्प उभरक आए कि किसान को न मरने दें।