महाकाल मंदिर के पुजारी की कोरोना से मौत के बाद उज्जैन के सभी मंदिर हुए बंद

Apr 11 2021 09:58 AM
महाकाल मंदिर के पुजारी की कोरोना से मौत के बाद उज्जैन के सभी मंदिर हुए बंद

उज्जैन: मध्यप्रदेश में कोरोना अब बेकाबू हो चला है। दिन पर दिन संक्रमण में तेजी देखने को मिल रही है और इसी के कारण सरकार किसी भी तरह की कोई ढील नहीं देना चाहती। हाल ही में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक ली। इस बैठक के दौरान सभी ने कोरोना चेन को तोड़ने के लिए लॉकडाउन बढ़ाने का सुझाव दिया था। उसके बाद इंदौर कलेक्टर ने साफ कर दिया कि कमेटी ने जो सुझाव दिया है, उससे सरकार सहमत है।

अब लॉकडाउन बढ़ चुका है और जो भी गाइडलाइन है उसे जल्द जारी किया जाने वाला है। बीते शनिवार को ही विश्व प्रसिद्ध महाकाल मंदिर में पिछले कई सालों से महाकाल की सेवा करने वाले पुजारी की कोरोना संक्रमण के चलते मौत हो गई। उनका अंतिम संस्कार इंदौर में किया गया है। वहीँ अब मंदिर के दो दूसरे पुजारियों के भी कोरोना से संक्रमित होने के चलते उज्जैन के सभी मंदिर बंद कर दिए गए हैं। अब ऐसा कहा जा रहा है कि इंदौर और उज्जैन में लॉकडाउन 19 अप्रैल तक बढ़ चुका है इसमें कोई शक नहीं है।

आप जानते ही होंगे इंदौर में कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए कलेक्टर मनीष सिंह ने ज्यादा कोरोना संक्रमित क्षेत्रों को माइक्रो कंटेनमेंट एरिया के रूप में घोषित किया है। बीते शुक्रवार शाम 6 बजे से प्रदेश के सभी नगर निगम, नगर पालिका और नगर परिषदों में 60 घंटे का लॉकडाउन लगाया गया है, जो सोमवार सुबह 6 बजे तक जारी रहने के आदेश थे लेकिन अब इसे बढ़ाया जा चुका है।

इसी के साथ राजधानी भोपाल के कोलार और रतलाम जिले में कोरोना कर्फ्यू 9 दिनों तक चलेगा। वहीँ छिंदवाड़ा में गुरुवार रात से 6 दिनों का लॉकडाउन जारी है, जबकि खरगोन, बैतूल, कटनी में सात दिनों तक कोरोना कर्फ्यू रहेगा।

11 अप्रैल तक बंद हुआ सोमनाथ मंदिर, सोशल मीडिया पर होगा आरती का प्रसारण

Video: इंदौर में लॉकडाउन का पालन न करने वालों को मिल रही है ये सजा

तेलंगाना: नयनी नरसिम्हा रेड्डी के दामाद के ठिकानों पर प्रवर्तन निदेशालय का एक्शन, कई स्थानों पर डाली रेड