बंगाल-ओडिशा में 'साइक्लोन यास' को लेकर अलर्ट, अगले 24 घंटों में लेगा भयानक रूप

कोलकाता: कोरोना महामारी से बुरी तरह जूझ रहे भारत ने हाल ही में चक्रवात Tauktae का सामना किया है. किन्तु अब बंगाल की खाड़ी से चक्रवात यास की चुनौती आ रही है. मौसम विभाग के मुताबिक, साइक्लोन यास आज ही यानी 24 मई को ही अति शक्तिशाली रूप ले लेगा. ऐसे में ओडिशा, बंगाल और आसपास के राज्यों में अलर्ट जारी किया गया है.

मौसम विभाग का कहना है कि 24 मई की सुबह तक निम्न दबाव साइक्लोन में बदल जाएगा और अगले 24 घंटों में यह चक्रवात, वेरी सेवियर साइक्लोन बन जाएगा. जानकारी के अनुसार, 26 मई की शाम तक साइक्लोन यास पश्चिम बंगाल, ओडिशा और बांग्लादेश में एंटर करेगा. इस दौरान हवाओं की रफ्तार 100 किमी. प्रति घंटा से भी अधिक हो सकती है. यही नहीं, लैंडफॉल वाली जगह पर तो हवाओं की रफ़्तार 150 किमी. प्रति घंटा की रफ्तार तक पहुंचने का अनुमान जताया गया है. चेतावनी दी गई है कि 25 मई से ही पश्चिम बंगाल में खास तौर पर तटीय इलाकों में भारी से अति भारी बारिश आरंभ हो जाएगी, जो 26 मई तक चलेगी.

बता दें कि साइक्लोन यास को देखते हुए पश्चिम बंगाल, ओडिशा में NDRF की टीम को उतार दिया गया है. तटीय इलाकों में लोगों को तूफान के खतरों से अवगत कराने के लिए लगातार अनाउंसमेंट की जा रही है. बंगाल में खासतौर पर मिदनापुर, सुंदरवन और आसपास के क्षेत्रों में प्रशासन द्वारा स्थानीय नागरिकों से संपर्क साधा जा रहा है. 

स्वास्थ्य, स्वच्छता और खाद्य उत्पादों की बिक्री में हुई बढ़ोतरी

MP: कूनों राष्ट्रीय उद्यान में आएँगे चीते, नवंबर में शुरू होगी लाने की प्रक्रिया

विदेश यात्रा के लिए क्यूआर कोड के साथ नकारात्मक आरटी-पीसीआर रिपोर्ट होगी अनिवार्य

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -