सीजन के चौथे खिताब के साथ अल्काराज़ बने मैड्रिड ओपन के नए सुपरस्टार

एक वर्ष पूर्व 18 वर्ष की आयु में जब स्पेन के कार्लोस अल्कारेज मैड्रिड ओपन में पहली बार उतरे थे तो उनका लक्ष्य अनुभव हासिल करना और शीर्ष खिलाड़ियों के साथ ही खेलना था। एक वर्ष के उपरांत वही अल्कारेज उस खिताब क विनर भी बन गए है। इस विजेता बनने की राह में उन्होंने शीर्ष खिलाड़ियों को भी मात दे चुके है। कार्लोस ने फाइनल में जर्मनी के अलेक्जेंडर ज्वेरेव को सीधे सेटों में 6-3, 6-1 से मात दे दी है।

जिसके पूर्व उन्होंने सेमीफाइनल में विश्व के नंबर एक सर्बिया के नोवाक जोकोविच और क्वार्टर फाइनल में हमवतन राफेल नडाल को पराजित कर चुके है। यह उनका वर्ष का चौथा खिताब कहा जा रहा है। जिसके पूर्व वह मियामी, रियो डि जेनेरियो और बार्सिलोना में विजेता बने थे। यह उनकी सीजन में 28वीं जीत रही। उन्होंने यूनान के स्टेफानोस सितसिपास (27) को पीछे छोड़ दिया है। 

शीर्ष दस खिलाड़ियों पर यह उनकी लगातार 7वीं जीत भी हासिल कर ली है। यही नहीं 19 वर्ष की आयु में दो मास्टर्स 1000 खिताब जीतने वाले वह दूसरे सबसे युवा खिलाड़ी बने। ख़बरों का कहना है कि जिसके पूर्व पहले उनके आदर्श राफेल नडाल ने 2005 में 18 वर्ष की आयु में मोंटे कार्लो और रोम में ऐसा  कर दिया था। अल्कारेज पिछले 17 सालों में शीर्ष दस रैंकिंग में पहुंचने वाले सबसे युवा खिलाड़ी हैं।

मैक्स वेर्स्टाप्पेन ने मियामी ग्रां प्री फॉर्मूला वन रेस में हासिल की जीत

महिला पत्रकार Eilidh Barbour पर हुई अश्लील टिप्पणी, SFWA ने मांगी माफी

जब शाहीद अफरीदी ने भारत को कहा दुश्मन, पाकिस्तान के इस हिन्दू क्रिकेटर ने लगाई क्लास

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -