अक्षय तृतीया - सोने की चमक फीकी रहने के आसार

Apr 20 2015 04:06 PM
अक्षय तृतीया - सोने की चमक फीकी रहने के आसार
style="text-align: justify;">मुंबई : अक्षय तृतीया लोगों के जीवन में रौनक घोलने का अवसर, अक्षय तृतीया हर शुभकार्य के लिए बिना समय देखे काम करने का अवसर। अक्षय तृतीया विवाह के लिए सबसे अच्छा दिन। जी हां, ऐसे ही अवसरों पर लोग कुछ उपहार खरीदते हैं, इन उपहारों में शामिल है पुराना लेकिन अनमोल उपहार सोना। शादी का सीजन हो तो हम अपने प्रियजन को तोहफे में स्वर्ण आभूषण देना कैसे भूल सकते हैं। स्वर्ण आभूषण अर्थात् सोने के गहने उपहार में देते हैं। 

इन उपहारों की दमक और खनक से जहां सभी की आंखें चमक उठती हैं वहीं हर चेहरा खिल उठता है। अक्षय तृतीया एक ऐसा मौका होता है जब विवाह के आयोजन बहुत अधिक होते हैं ऐसे में लोग बड़े पैमाने पर सोने के आभूषण खरीदते हैं। हालांकि इस बार सोने का मार्केट कुछ फीका नज़र आ रहा है। इस बार अभी तक बाजार में स्वर्ण आभूषणों की इतनी खरीदी नहीं देखी गई है। दूसरी ओर फिलहाल सोना खरीदने पर भी रोक लगा दी गई है। 

अमेरिकी फेडरल रिजर्व का रूख कड़ा होने की आशंका भी इस तरह के बाजार में जताई जा रही है। जिससे इसका मार्केट प्रभावित हो सकता है। माना जा रहा है कि फेड की दर बढ़ती है तो डाॅलर की वेल्यु अच्छी रहेगी इस दौरान सोने में कुछ गिरावट आ सकती है। मगर फिलहाल सोने के दाम 10890 डाॅलर प्रति ओंस अर्थात प्रति 28.3 ग्राम पर 66960 रूपए पर बनी हुई है। हालांकि अभी तक गोल्ड का मार्केट कुछ धीमा माना जा रहा है लेकिन उम्मीद जताई जा रही है कि गोल्ड के बाजार में फिर तेजी आएगी और लोग सोने के गहने खरीदेंगे। फिलहाल लोग रस्म अदायगी के लिए आवश्यक माने जाने वाले गोल्ड को ही खरीद रहे हैं।