'ये मेरी समझ से बाहर है', भाषा विवाद अक्षय कुमार का बयान

बॉलीवुड अभिनेता अजय देवगन और कन्नड़ एक्टर किच्चा सुदीप के द्वारा शुरू हुए भाषा विवाद में अब अक्षय कुमार ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है। जी दरअसल बीते कई दिनों से साउथ बनाम बॉलीवुड पर बात हो रही है और अब इसी बारे में बात करते हुए अक्षय कुमार ने अपनी सहमती जताई है कि क्षेत्रीय ब्लॉकबस्टर की तुलना में बॉलीवुड फिल्में बॉक्स ऑफिस पर अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पा रही हैं। उन्होंने कहा, "मुझे उम्मीद है कि जल्द ही ऐसा समय आएगा जब बॉक्स ऑफिस पर हर फिल्म अच्छा प्रर्दशन करेगी, यह हिंदी फिल्म उद्योग के लिए महत्वपूर्ण है। फिंगर्स क्रॉस्ड! क्योंकि मुझे नहीं पता कि क्या होगा, और यह शब्द 'पैन इंडिया', ये मेरी समझ से बाहर है।"

आगे उन्होंने कहा, "देखिए, मैं इस विभाजन में विश्वास नहीं करता। मुझे गुस्सा आता है, जब कोई यह कहता है कि यह 'दक्षिण उद्योग से है और यह उत्तर उद्योग से।' हम सब एक उद्योग से हैं। मेरा यही मानना है। मुझे लगता है कि हमें यह सवाल पूछना भी बंद कर देना चाहिए।" इसी के साथ उन्होंने यह भी कहा कि, 'हमने अपने इतिहास से कुछ नहीं सीखा और अंग्रेजों ने भी धर्म और भाषा के आधार पर लोगों को बांटने का फायदा उठाया। यह समझना महत्वपूर्ण है ।।। इस वजह से हमारा बेड़ा गर्क हुआ था जब ब्रिटिशर्स आ के बोलते थे कि 'ये-ये है और वो-वो।' इसी के साथ आगे उन्होंने कहा- 'उन्होंने हमें विभाजित किया और हमने इससे कभी नहीं सीखा। हम अभी भी इस हिस्से को नहीं समझते हैं। जिस दिन हम यह समझने लगेंगे कि हम एक हैं, चीजें बेहतर हो जाएंगी।'

आगे उन्होंने कहा, "हम खुद को एक उद्योग क्यों नहीं कह सकते हैं, और हमें इसे 'उत्तर या हिंदी' कहकर विभाजित करने की आवश्यकता क्यों है? फिर वो भाषा की बात करेंगे, और फिर इस पर बहस होगी। हम सबकी भाषा अच्छी है हम सब अपनी मातृभाषा में बात कर रहे हैं, और यह सुंदर है। इसे मुद्दा बनाने की कोई जरूरत नहीं है।"

लंदन में कनिका कपूर ने रचाई रॉयल शादी, सामने आईं तस्वीरें और वीडियो

गोल्ड जीतने वाली निकहत ज़रीन की जान हैं सलमान, अभिनेता ने कही ये बात

राजस्थान का गौरव बने मामे खान, कांस फिल्म फेस्टिवल में लगाए वन्दे मातरम के नारे

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -